गौतम अडानी की फ्लैगशिप कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज ला रही है अपना FPO

Business

72.36% है कंपनी में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी

कंपनी के बोर्ड की बैठक में एफपीओ या प्रेफरेंशियल एलॉटमेंट के जरिए फंड जुटाने की संभावनाओं पर चर्चा होगी। बोर्ड एफपीओ लाने को मंजूरी देती है तो इसके बाद सेबी की मंजूरी लेनी होगी। स्टॉक एक्सचेंजों को दी गई सूचना के अनुसार कंपनी में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी 72.36 फीसदी है।

अडानी एंटरप्राइजेज अपने कारोबार को तेजी से बढ़ा रही है। एफपीओ के जरिए रकम जुटाकर कंपनी अपने कारोबार को और अधिक डायवर्सिफाई कर सकती है। सूत्रों के अनुसार कंपनी अधिग्रहण योजनाओं पर भी काम कर रही है।

4,000 रुपये के करीब ट्रेड कर रहा शेयर

अडानी एंटरप्राइजेज का शेयर इस समय 4,000 रुपये के करीब ट्रेड कर रहा है। इस शेयर का 52 हफ्ते का उच्च स्तर 4,098 रुपये और 52 हफ्ते का न्यूनतम स्तर 1529 रुपये है। बीएसई पर कंपनी का बाजार पूंजीकरण 4,50,212 करोड़ रुपये है।

क्या होता है एफपीओ

एफपीओ यानी फॉलो ऑन पब्लिक ऑफर किसी कंपनी के लिए पैसे जुटाने का एक तरीका होता है। शेयर मार्केट में लिस्ट होने के लिए कंपनी सबसे पहले आईपीओ (IPO) लेकर आती है। इसमें यह शेयर इश्यू करती है। जब एक कंपनी आईपीओ के बाद और अधिक शेयर इश्यू करना चाहे, तो वह एफपीओ लेकर आती है।

कंपनियां अपने कर्ज चुकाने, प्रोजेक्ट्स को फाइनेंस करने या अधिग्रहण करने जैसे कार्यों के लिए पैसा जुटाती है। इसके लिए वह अतिरिक्त शेयर जारी कर एफपीओ के जरिए पूंजी जुटाती है।

Compiled: up18 News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *