ग्रीन ग्रोथ: सब्ज़ स्याही से लिखा गया है बजट 2023

बजट का नाम सुनते ही अमूमन हमें सबसे पहले याद आता है इन्कम टैक्स. फिर चर्चा होती है क्या सस्ता हुआ क्या महंगा, और उसके बाद फिक्र होती है कहाँ क्या विकास होगा और शिक्षा, स्वास्थ्य, और रक्षा जैसे बुनियादी क्षेत्रों पर सरकार कितना खर्चा कर रही है. केन्‍द्रीय बजट 2023-24 पेश किया जा चुका है. यह बजट […]

Continue Reading

जानिए क्या हैं आर्थिक सर्वेक्षण के मायने ? कब हुई इसकी शुरुआत

भारत में पहली बार आर्थिक सर्वेक्षण देश के आजाद होने के तीन साल बाद पेश किया गया था। साल 1950-51 में भारत में पहली बार आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया था। आर्थिक सर्वेक्षण वित्त मंत्रालय द्वारा जारी की गई एक वार्षिक रिपोर्ट है। यह पिछले एक साल में देश के आर्थिक प्रगति और प्रदर्शन का लेखा […]

Continue Reading

इनसाइड स्टोरी ऑफ विड्रवाल ऑफ़ अडानी FPO, सेबी बनी धृतराष्ट्र

जी हां धृतराष्ट्र महाभारत के ऐसा कैरेक्टर है जिसे कौरवों के पाप दिखाई ही नही देते थे आज के तारीख में देश की एक संस्था सेबी ऐसा ही व्यवहार कर रही है, उसे अडानी की करतूतें दिखाई ही नहीं देती, लेकिन सूचनाओं के इस दौर में पूरी दुनिया एक ग्लोबल विलेज के समान हो गई […]

Continue Reading

आर्थिक सर्वेक्षण 2023: ग्रोथ ही बनेगी अर्थव्यवस्था की गति-शक्ति

देश की निगाह आर्थिक सर्वेक्षण पर ही लगी थी क्योंकि अर्थव्यवस्था जिस राह में चल रही है और किस डगर पर चलना चाहती है उसकी एक बानगी उसमें दिखाई देती है। वस्तुतः अर्थव्यवस्था के स्वास्थ्य के लेखे जोखे की एक झलक आर्थिक सर्वेक्षण में दिख जाती है । साथ ही चुनौतियां क्या हैं; राहें कौन-कौन […]

Continue Reading

पठान विवाद: ये लड़ाई हिंदू और मुस्लिम आइकन के बीच की है

रिलीज़ के बाद भी पठान फिल्म के बायकॉट की मांग थम नहीं रही। फिल्म को लेकर विवाद तब शुरू हुआ जब यूट्यूब पर बेशर्म गाना रिलीज़ हुआ। फिर लोगों ने शाहरुख और बॉलीवुड को हिंदू विरोधी बताते हुए विरोध किया और अब तो सिर्फ फिल्म के बायकॉट की मांग सुनाई देती है। विरोध क्यों कर […]

Continue Reading

समझिए भारत की रणनीति: गणतंत्र दिवस पर मिस्र के राष्ट्रपति को क्यों बनाया मुख्‍य अतिथि?

गणतंत्र दिवस परेड पर विदेशी मेहमानों को बुलाने की परंपरा वैसे तो प्रतीकात्मक होती है। पर किसी देश के राष्ट्राध्यक्ष को बुलाने के पीछे की कूटनीति बदले वैश्वक समीकरण में अब बदली भी है। 74वें गणतंत्र दिवस पर मिस्र के राष्ट्रपति अब्‍दल फतह अल सीसी भारत के मेहमान हैं। दरअसल, कई मायने में मिस्र के […]

Continue Reading

प्राइवेट प्लेयर्स की धार्मिक एंट्री, गंगा पर विलास का खेल, काशी के आध्यात्मिक आकाश पर काले बादलों की छाया

एक दौर था जब नुमाइश की चीजों से आस्था को दूर रखा जाता था, और आस्था के विषय से नुमाइश को दूर रखा जाता था…..एक समय था जब धर्म का विषय काफी व्यक्तिगत होता था, ये वो समय नहीं था जब “एक समय की बात है” जैसी पंक्तियों से शुरू होने वाले कुछ मनगढ़ंत और […]

Continue Reading

मोरबी पुल हादसा: 140 लोगो की अकाल मृत्यु से जुड़ी जांच कहा तक पुहंची..शायद करना होगा 2044 तक इंतजार

कल रात नेटफ्लिक्स पर आई नई वेब सीरीज ट्रायल बाय फायर’ देख रहा था जो 1997 में दिल्ली के उपहार सिनेमा में लगी आग की दुर्घटना और उसमें मारे गए लोगों और उनके परिजनों के दुख दर्द की दास्तान पर आधारित है सीरीज मुख्य रूप से कृष्णमुर्ति दंपती द्वारा लड़ी गई लंबी कानूनी लड़ाई पर […]

Continue Reading

मोदी सरकार के दो सबसे काबिल मंत्री

एस जयशंकर वर्तमान में विदेश मंत्री हैं। पहले भारत की IFS सर्विसेज में कार्यरत थे। भारत की तरफ से अमेरिका, चीन, सिंगापुर इत्यादि देशों में एंबेसडर (उच्चायुक्त) नियुक्त रहे हैं। उन्हें इन देशों के साथ डील करने का व्यक्तिगत अनुभव है। इनकी समस्याएं, इनकी स्ट्रेंथ, इनकी वीकनेस सब पता है। भाजपा ने एकदम सही कदम […]

Continue Reading

राजनीतिक बाजार में तुलसीदास…

बिहार सरकार के शिक्षामंत्री ने नालंदा खुला विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में, रामचरित मानस की कुछेक पंक्तियों को उद्धृत करते हुए, उसे नफरत फ़ैलाने वाले ग्रन्थ के रूप में चिह्नित किया और उसे ‘मनुस्मृति और गोलवरकर विरचित बंच ऑफ़ थॉट्स’ की श्रेणी में रखा. इसे लेकर भगवा ब्रिगेड ने शिक्षा मंत्री पर चौतरफा हमला तेज […]

Continue Reading