JNU में BBC की डॉक्यूमेंट्री दिखाए जाने पर बैन, एडवाइजरी जारी

Regional

छात्रों ने जारी किया था पैम्फलेट

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) प्रशासन का यह आदेश छात्रों के एक समूह द्वारा मंगलवार को डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग के लिए पैम्फलेट जारी करने के बाद आया है। जेएनयू प्रशासन द्वारा जारी एडवाइजरी जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ के नाम पर जारी की गयी है। जिसमें कहा गया है कि इस तरह की गतिविधि से विश्वविद्यालय में शांति और सद्भाव भंग हो सकती है। एडवाइजरी में लिखा है ‘

“प्रशासन के संज्ञान में आया है कि छात्रों के एक समूह ने जेएनयूएसयू के नाम पर एक डॉक्यूमेंट्री/फिल्म “इंडिया: द मोदी क्वेश्चन” की स्क्रीनिंग के लिए एक पैम्फलेट जारी किया है, जो 24 जनवरी 2023 को रात 9:00 बजे टेफ्लास में निर्धारित किया गया है। इस कार्यक्रम के लिए जेएनयू प्रशासन से कोई पूर्व अनुमति नहीं ली गई है। यह इस बात पर जोर देने के लिए है कि इस तरह की अनधिकृत गतिविधि से विश्वविद्यालय परिसर की शांति और सद्भाव भंग हो सकता है। प्रशासन ने छात्रों को को सलाह दी है कि एडवायजरी का पालन नहीं करने पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी की जाएगी इसलिए इस कार्यक्रम को रद्द कर दें।”

केंद्र सरकार ने बताया प्रोपेगेंडा का हिस्सा

केंद्र सरकार ने गुजरात दंगों पर बीबीसी (BBC)की डॉक्‍यूमेंट्री को ‘प्रोपेगेंडा का हिस्सा’ बताया है और कहा है कि वह ऐसी फिल्‍म का ‘महिमामंडन’ नहीं कर सकती। सरकार की ओर से कहा गया कि प्रधानमंत्री पर बीबीसी की डॉक्‍यूमेंटी दुष्‍प्रचार, पक्षपाती और औपनिवेशक मानसिकता को दर्शाती है।

Compiled: up18 News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *