एयर इंडिया ने अपने क्रू के लुक को लेकर नई गाइडलाइंस जारी कीं, नई चलेगा पुराना कल्चर

Business

एयर इंडिया ने क्रू मेंबर्स के सजने-संवरने को लेकर पूरी गाइडलाइन जारी कर दी है। इसमें पुरुष स्‍टाफ व महिला स्‍टाफ के लिए अलग-अलग निर्देश हैं, जिसमें बताया गया है कि उन्‍हें किस तरह के कपड़े और एसेसरीज पहनने होंगे, बालों को कैसे रखना होगा।

महिला क्रू मेंबर्स के लिए गाइडलाइंस

पहननी होगी केवल एक प्‍लेन चूड़ी, नहीं होनी चाहिए कोई डिजाइन
कान में साधारण सोने या हीरे के गोल टॉप्‍स, झुमके या बाली नहीं
बिंदी के लिए भी आकार निर्धारित किया गया है- 0.5 सेटीमीटर
फैशन नहीं नेचुरल कलर में रंगे होने चाहिए बाल, ग्रे हेयर्स की इजाजत नहीं

इसके अलावा ग्रे हेयर्स की इजाजत नहीं है। हर दिन बालों को नेचुरल हेयर कलर में डाई कर सकते हैं। यह पुरुष व महिला स्‍टाफ दोनों के लिए जरूरी है।

पुरुषों के लिए

काले रंग का जैकेट पहनना अनिवार्य है
पर्सनल tie pins की इजाजत नहीं दी गई है
क्रू केवल टाई पहन सकते हैं
यूनिफार्म के साथ बिना लोगो के काले रंग के मोजे पहन सकते हैं
करीने से कटे छोटे बाल होने चाहिए

इसके अलावा क्रू मेंबर्स को प्रतिदिन शेव करना होगा साथ ही हेयर जेल भी अनिवार्य तौर पर लगाना होगा। साथ ही जिनके बाल नहीं है, हर दिन उन्‍हें शेविंग करानी होगी। अंगुठियों व सिखों के कड़ा को लेकर भी गाइडलाइंस दिए गए हैं। इसके तहत केवल शादी की अंगूठी पहन सकते हैं और 0.5 सेमी मोटाई का कड़ा पहनने की अनुमति होगी। साथ ही कड़े पर किसी तरह का लोगो या डिजाइन नहीं होना चाहिए।

महिला स्‍टाफ 1 सेमी की चौड़ाई वाली दो अंगुठियां पहन सकती हैं।

महिला क्रू मेंबर्स को गाइडलाइंस के पालन को लेकर एयर इंडिया ने सख्‍त हिदायत दी है। अब वे अलग-अलग डिजाइनर हेयरस्‍टाइल्‍स भी नहीं कर सकेंगी।  इसके अलावा फाउंडेशन व कंसीलर को अनिवार्य किया गया है। नए गाइडलाइंस के अनुसार महिला स्‍टाफ को मेकअप पूरा करना है लेकिन भड़कीला नहीं।

केवल चार काली बॉबी पिन की इजाजत
आईशैडो, लिपस्टिक, नेल पेंट और हेयर कलर में भी बदलाव
टैटू की सख्‍त मनाही  बालों को ज्‍यादा ऊंचा बांधने की भी मनाही है
न तो ज्‍यादा ऊंचा और न ही कंधे पर ढीला जूड़ा बंधा होना चाहिए
छोटे खुले बालों को ब्‍लो ड्राई या पर्मानेंट स्‍मूदनिंग के साथ होना अनिवार्य है

इस नए बदलाव के लिए कंपनी की ओर से वजह तो नहीं बताई गई है। कुछ क्रू मेंबर्स ने बताया, ‘दुनिया में दशकों से सेवा देने वाला देश का एकमात्र एयरलाइंस होने के कारण ही मैनेजमेंट ने यह बदलाव किया है। इससे एयरलाइंस व इसके क्रू मेंबर्स कि इमेज अंतर्राष्‍ट्रीय मानकों के अनुसार न होकर भारतीय होगा।

Compiled: up18 News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *