फसल और नस्ल बचाने के लिए देश मे फिर होगा बड़ा आंदोलन: चौधरी राकेश टिकैत

National

मथुरा में मोदी सरकार पर जम कर बरसे राकेश टिकैत

मथुरा: रविवार को हो रही झमाझम बारिश के बीच मथुरा जनपद की मांट विधानसभा में किसान नेता राकेश टिकैत जमकर बरसे। एक तरफ़ इंद्र देव धरती पर बरस रहे थे तो दूसरी ओर भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत मोदी सरकार पर बरस रहे थे। दरअसल मौका मानागढ़ी में हुई किसान महापंचायत का था। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में राकेश टिकैत शामिल हुए थे। बारिश के मौसम में भी किसान सरदारी व पदाधिकारी बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

किसान पंचायत को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय प्रबक्ता चौ राकेश टिकैत ने कहा कि किसान को एक जुट होकर फसल औऱ नस्ल की लड़ाई लड़नी होगी। बर्तमान सरकार उन अंग्रेजो की सरकार है जिन्होंने देश को गुलाम बना दिया आज फिर से देश को गुलामी की जंजीर में जकड़ने जा रही है। अगर हम जग कर अपने लिए नही लड़े तो हम सब को इसके बुरे परिणाम झेलने पड़ेंगे। वर्तमान बीजेपी सरकार ने किसानों पर अत्याचार किए हैं। राजनीतिक दलों को दबा दिया गया है। जिससे कि कोई भी पक्ष वर्तमान सरकार पर पलटवार ना कर सके 1992 में लगे मुकदमे वर्तमान सरकार ने दोबारा से खोल कर किसानों पर थोप दिए हैं।

बीजेपी सरकार के नुमाइंदों पर लगे मुकदमे वापस कर लिए गए हैं ।सरकार की मंशाओं को लेकर एक बहुत बड़े आंदोलन का आगाज करना पड़ेगा एक समय वह था जब किसान कहता था सरकार सुनती थी अधिकारी सुनते थे लेकिन वर्तमान सरकार में किसान कहता है लेकिन उसकी कोई सुनता नहीं ।

चौधरी राकेश टिकैत ने खुले मंच से चेतावनी देते हुए कहा कि जो भी अधिकारी, कर्मचारी किसान का अहित करेंगे उनका शोषण करेंगे ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों का हिसाब वही किया जाएगा ,वहीं एनजीटी के कानूनों में बदलाव हो क्योंकि एनजीटी के कानून से केवल और केवल उद्यमियों की बड़ी कंपनियों को फायदा होगा और किसानों को घाटा होता चला जाएगा वहीं वर्तमान सरकार एक अन्य बिल लेकर के आ रही है जिसमें कि बाहर की कंपनियां भारत में आकर के दूध बेचेंगे अगर ऐसा होता है तो किसानों के पशु व किसान खत्म हो जाएंगे इसका भारतीय किसान यूनियन बहुत बड़े आंदोलन के जरिए विरोध करेगी जिस तरह से केंद्र सरकार तीन काले कानून ले करके आई थी भारतीय किसान यूनियन ने 14 महीने दिल्ली में कानून के विरोध में आंदोलन किया और कानूनों को वापस कराया ठीक उसी प्रकार के तीन काले कानून बिहार में 17 वर्ष पूर्व लागू किये गए जिसके कारण से बिहार में कोई भी मंडी नहीं बची है।

उन्होंने आगे कहा कि सैनिकों के लिए अग्निवीर योजना है तो संसद में बैठने वालों के लिए संसद वीर योजना हो विधानसभा में बैठने वालों के लिए विधानसभा वीर योजना हो देश के नेताओं के लिए अग्निवीर योजना होनी चाहिए इस तरह से अग्निवीर योजना लागू होने से देश के युवाओं का केवल और केवल शोषण होगा इस शोषण का खुला विरोध भारतीय किसान यूनियन करेगी वर्तमान सरकार उद्यमी और व्यापारियों की सरकार है किसानों से अपील करते हुए चौधरी राकेश टिकैत ने कहा कि देश को एक बार फिर एक बड़े आंदोलन की जरूरत है इसलिए किसान अपने ट्रैक्टर ट्रॉली मजबूत रखें संगठित रहें और संगठन को मजबूत रखें।

किसान महापंचायत में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह चोरोली राष्ट्रीय सचिव ओमपाल तालान राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी सुभाष चौधरी प्रदेश अध्यक्ष उत्तर प्रदेश राजपाल शर्मा प्रदेश अध्यक्ष हरियाणा रतनमान प्रदेश प्रवक्ता गजेंद्र सिंह परिहार, ओमप्रकाश कसाना, राजीव मलिक ,ज्ञानी प्रधान , उत्तर प्रदेश सुंदर सिंह बालियान प्रदेह, पवन खटाना,विजय तालान, बब्बन प्रधान, गुड्डू प्रधान, देवेंद्र रघुवंशी, राजवीर लवानिया आदि मौजूद रहे।

-up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published.