सुप्रीम कोर्ट ने फुटबॉल फेडरेशन के अध्यक्ष पद से प्रफुल्ल पटेल को हटाया

SPORTS

सुप्रीम कोर्ट ने ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) के अध्यक्ष पद से प्रफुल्ल पटेल को हटा दिया है। इतना ही नहीं, शीर्ष कोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट के रिटार्यड जज अनिल आर. दवे, पूर्व चुनाव आयुक्त डॉ. एसएफ कुरैशी और पूर्व भारतीय कप्तान भास्कर गांगुली वाली समिति COA को महासंघ के एडमिनिस्ट्रेटिव चार्ज सौंपे हैं। अब नए चुनाव होने तक यह समिति ही देश में फुटबॉल गतिविधियां संचालित करेगी।

बुधवार को दिल्ली फुटबॉल क्लब की याचिका पर इस लंबित मामले की सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति पीएस नरसिम्हा ने यह आदेश दिए।

पूर्व कप्तान गांगुली ने की थी अपील

पिछले हफ्ते पूर्व भारतीय कप्तान भास्कर गांगुली ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की थी कि उनके पैनल द्वारा तैयार संविधान को मान्यता प्रदान की जाए। साथ ही कोर्ट अपनी निगरानी में AIFF को चुनाव कराने का निर्देश दे। वे सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (COA) के सदस्य हैं।

2017 में हुआ था COA का गठन

शीर्ष कोर्ट ने 2017 में आदेश देते हुए COA का गठन किया था, जिसमें जिसमें पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त कुरैशी और गांगुली को राष्ट्रीय खेल संहिता के अनुसार AIFF का संविधान तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

प्रफुल्ल का कार्यकाल खत्म हो चुका है

भारतीय फुटबॉल महासंघ के चुनाव दिसंबर 2020 में होने वाले थे, लेकिन संघ ने अपने संविधान के संबंध में सुप्रीम कोर्ट में लंबित मामले का हवाला देते हुए चुनाव नहीं कराए। प्रफुल्ल पटेल ने दिसंबर 2020 में AIFF अध्यक्ष के रूप में अपने तीन कार्यकाल और 12 साल पूरे किए, जो खेल संहिता के तहत एक राष्ट्रीय खेल महासंघ के अध्यक्ष के लिए अधिकतम है।

-एजेंसियां

up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published.