प्रवचन: असत्य बोलने के बजाय मौन रहें- जैन मुनि डा.मणिभद्र महाराज

Religion/ Spirituality/ Culture

आगरा: नेपाल केसरी और मानव मिलन संस्थापक, जैन मुनि डा.मणिभद्र महाराज ने कहा है कि व्यक्ति को किसी भी परिस्थिति में झूठ नहीं बोलना चाहिए। यदि कोई मौका झूठ बोलने की आता है तो चुप हो जाएं, पर असत्य वचन से बचना चाहिए।

राजामंडी के जैन स्थानक में हो रहे भक्तामर स्रोत अनुष्ठान में प्रवचन करते हुए जैन मुनि ने कहा कि सत्यता किसी को पसंद नहीं है। असत्य वचन ही पसंद आते हैं।  झूठ बोल कर किसी की चापलूसी करना अनुचित है। यदि किसी में अच्छी बात है तो अवश्य ही उसकी तारीफ करें, लेकिन झूठ नहीं बोलें। मौन रह कर हम असत्य को पराजित कर सकते हैं। मौन की साधना से व्यक्ति को कई प्रकार की शक्तियां प्राप्त होती हैं, जिनसे जीवन का कल्याण होता है। मौन रहने से आत्मिक सुख भी मिलता है। आत्मा को शक्ति मिलती है। मौन रहने के अनेक प्रकार के झंझावातों और संकटों से मुक्ति भी मिलती है।

नवरात्र पर सभी को शुभकामनाएं देते हुए मुनिवर ने कहा कि इस प्रकार के पर्व हम सबको ऊर्जा देते हैं। नवरात्र में अनुष्ठान से हमें सिद्धियां प्राप्त होती हैं,लेकिन गलत उपयोग के लिए सिद्धियां प्राप्त न करें। अज्ञानता वश अथवा अपने किसी स्वार्थ के लिए हम ऐसा पूजन न करें, जिससे किसी को नुकसान हो।

उन्होंने कहा कि हमारे समाज में दो तरह के लोग होते हैं, देवत्व और आसुरी प्रवृत्ति वाले। दोनों प्रकार की शक्तियां मनुष्य को आकर्षित करती हैं, लेकिन हमें दृढ़ता पूर्वक देवत्व की भावना को अपनाना चाहिए। यदि हम किसी का अच्छा नहीं कर सकते तो बुरा भी नहीं करना चाहिए। जब हम सर्वकल्याण की भावना को हृदयंगम करेंगे तो हमारा भी कल्याण होगा और जगत का भी। इसलिए हर किसी के कल्याण की बात करें।

मानव मिलन संस्थापक नेपाल केसरी डॉक्टर मणिभद्र मुनि,बाल संस्कारक पुनीत मुनि जी एवं स्वाध्याय प्रेमी विराग मुनि के पावन सान्निध्य में 37 दिवसीय श्री भक्तामर स्तोत्र की संपुट महासाधना में सोमवार को 32 एवम 33 वीं गाथा का जाप नरेश शोभा चप्लावत, अशोक उषा सुराना, राजेश शैलबाला सुराना, कमल, सुलभ, कविता जैन परिवार ने लिया। नवकार मंत्र जाप की आराधना मंगेश,मंजू ,शशि सोनी परिवार ने की।
सोमवार के अनुष्ठान में राजेश सकलेचा, मुकेश जैन, विवेक कुमार जैन, प्रशांत जैन, संजय जैन, अशोक जैन गुल्लू, राहुल जैन, आदि उपस्थित थे।

-up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *