मदर डेयरी को उम्मीद, 15,000 करोड़ तक पहुंच सकता चालू वित्त वर्ष में उसका कारोबार

Business

मदर डेयरी जो खाद्य तेल और फल तथा सब्जियां भी बेचती है, का कारोबार पिछले वित्त वर्ष में 12,500 करोड़ रुपये था।

मदर डेयरी फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक मनीष बंदलिश ने पिछले सप्ताह ग्रेटर नोएडा में आयोजित आईडीएफ-विश्व डेयरी सम्मेलन के मौके पर पीटीआई-भाषा को बताया, ”हमें उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष में कारोबार 20 प्रतिशत वृद्धि के साथ करीब 15,000 करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगा।”

उन्होंने कहा कि यह वृद्धि विभिन्न डेयरी उत्पादों की मात्रा और मूल्यों, दोनों से प्रेरित होगी।

बंदलिश ने कहा, ”हम अपने सभी दूध और अन्य डेयरी उत्पादों की मजबूत मांग देख रहे हैं। गर्मियों के दौरान आइसक्रीम की बिक्री में काफी वृद्धि हुई है।”

महामारी के चलते लगाए गए लॉकडाउन के कारण 2020 और 2021 में आइसक्रीम की बिक्री प्रभावित हुई थी।

मदर डेयरी ने पिछले महीने दिल्ली-एनसीआर में दूध की कीमतों में दो रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। कंपनी ने इस साल मार्च में भी दूध की कीमतों में इतनी ही बढ़ोत्तरी की थी।

बंदलिश ने कहा, ”पिछले महीने खुदरा कीमतों में बढ़ोत्तरी के बाद हमारी दूध खरीद लागत में दो रुपये प्रति लीटर की बढ़ोत्तरी हुई है।”

यह पूछने पर कि क्या खुदरा कीमतों में और वृद्धि की जाएगी, उन्होंने कहा, ”यदि लागत में बढ़ोत्तरी की मौजूदा प्रवृत्ति जारी रहती है, तो हम 3-4 महीने के बाद इस पर विचार कर सकते हैं।”

गौरतलब है कि पशु चारे की लागत में तेजी से वृद्धि हुई है, जिससे किसानों को बिक्री मूल्य बढ़ाना पड़ा है इसलिए डेयरी कंपनियों की दूध खरीद लागत बढ़ गई है।

उन्होंने कहा कि डेयरी उत्पादों के अलावा मदर डेयरी का खाद्य तेल, ताजे फल और सब्जियां तथा ब्रेड कारोबार भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। कंपनी ‘धारा’ ब्रांड के तहत खाद्य तेल और ‘सफल’ ब्रांड के तहत ताजे फल और सब्जियों की बिक्री करती है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published.