कर्नाटक के मंगलूरु में हुए विस्फोट को कर्नाटक पुलिस ने आतंकी घटना बताया

Regional

कम तीव्रता वाला ये धमाका तब हुआ जब एक व्यक्ति ऑटोरिक्शे में सवार होकर शहर के दूसरे हिस्से में जा रहा था. विस्फोट में यात्री और चालक दोनों ही घायल हो गए. विस्फोट के पीछे यात्री का ही हाथ बताया जा रहा है.

राज्य के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने पुष्टि की है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की एक टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण किया है.

कर्नाटक के डीजीपी प्रवीण सूद ने बताया- ”ये साफ़ है कि कम तीव्रता वाले विस्फोट करने के पीछे उसका मक़सद आतंक पैदा करना था, लेकिन शायद, ग़लती से या जानबूझकर उसने शहर के रास्ते में ये विस्फोट कर दिया. वो खुद घायल है.”

‘वो अपनी एक अलग पहचान के साथ नाम और बाकी चीज़ें बदलकर घूम रहा था. हमारे पास काफ़ी जानकारी है लेकिन हम उसके ठीक होने और फिर बात करने का इंतजार करेंगे.”

कोयम्बटूर शहर में भी बीते 23 सितंबर को मंदिर के पास खड़ी एक कार में सिलिंडर ब्लास्ट की घटना सामने आई थी.

कर्नाटक का तटीय क्षेत्र, विशेष रूप से मंगलूरु, लंबे समय से सांप्रदायिक रूप से एक संवेदनशील क्षेत्र रहा है. यहां चरमपंथी गतिविधियों से जुड़े कुछ तार मिलते हैं.

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *