भारतीय संस्कृति मानती है प्रकृति को ईश्‍वर: डॉ. चारुदत्त पिंगळे

भारतीय संस्कृति प्रकृति को ईश्‍वर मानती है। आधुनिक विज्ञान का कितना भी महिमामंडन करें, तब भी उसकी सीमा है । भारतीय तत्त्वज्ञान के अनुसार धर्म और विज्ञान परस्परविरोधी नहीं हैं । प्राचीन भारतीय ऋषियों ने आत्मसाक्षात्कार की प्रक्रिया द्वारा विज्ञान के सिद्धांत प्रगट किए । इसलिए भारत में शिल्पशास्त्र, अग्नियानशास्त्र, नौकानयनशास्त्र, चिकित्साशास्त्र, गणित, खगोलशास्त्र आदि […]

Continue Reading

त्रिनिदाद-टोबैगो के राजदूत डॉ रोगर गोपाल का श्रीकृष्ण जन्मभूम‍ि पर किया भव्य स्वागत

मथुरा। त्रिनिदाद टोबैगो के राजदूत महामहिम डॉ रोगर गोपाल ने अपने पूर्व नियत कार्यक्रम के अनुसार आज पूर्वान्ह श्रीकृष्ण-जन्मभूमि पहुंचकर दर्शन किये। श्रीकृष्ण जन्मभूमि पहुंचने पर श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के सचिव श्री कपिल शर्मा ने उनका पुष्पहार भेंटकर स्वागत किया। जन्मभूमि के दर्शन व भ्रमण से भावविभोर महामहिम ने बताया कि उनके पूर्वज पूर्वी […]

Continue Reading

जानिए- पुरुषोत्तम मास का महत्त्व, इस अवधि में किए जानेवाले व्रत

‘इसवर्ष या १८.९.२०२० से १६.१०.२०२० की अवधि में अधिक मास है । यह अधिक मास ‘आाश्विन अधिक मास’ है । अधिक मास को अगले मास का नामदिया जाता है, उदा. आश्विन से पूर्व आनेवालेअधिक मास को ‘आश्विन अधिक मास’ कहते हैं और उसके उपरांत आनेवाले मास को ‘शुद्ध आाश्विनमास’ कहा जाता है । अधिक मास किसी बडे पर्वकी भांति होता है । इसलिए इस मास में धार्मिककृत्य किए जाते हैं और ‘अधिक मास महिमा’ग्रंथ का वाचन किया जाता है ।

Continue Reading

आगरा: मुल्क के अमन चैन की दुआ के साथ 466 वाँ जश्न ए उर्स व सर्वधर्म सम्मेलन सम्पन्न

बुजुर्गो , सूफी , साधु संतों की दुआओ से ही मुल्क में अमन चैन और खुशहाली आती है । महासचिव विजय कुमार जैन ऐतिहासिक बुज़ुर्ग हज़रत ख्वाजा शैख सय्यद फतिहउद्दीन बल्खी अल्मारूफ तारा शाह चिश्ती साबरी के पीर आे मुर्शिद हज़रत ख्वाजा शैख सय्यद निज़ामुद्दीन बल्खी चिश्ती साबरी का 466 वा जश्न ए उर्स व […]

Continue Reading

पितृ पक्ष के मौके पर वाराणसी में किन्नर अखाड़े ने किया त्रिपिंडी श्राद्ध

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में पितृ पक्ष के मौके पर लोग पिशाच मोचन पर पितरों के तर्पण के लिए आ रहे हैं। इसी क्रम में बुधवार को किन्नर अखाड़े ने महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी की अगुवाई में अकाल मृत्यु का शिकार हुए पूर्वजों के लिए त्रिपिंडी श्राद्ध किया गया। इसके साथ ही उनके लिए […]

Continue Reading

आगरा: 466 वे जश्न ए उर्स व सर्वधर्म सम्मेलन में गुस्ल , संदल , इत्र, चादरपोशी , गुलपोशी की रस्म अदा की गई

बुजुर्गों के उर्स में रूहानी व नूरानी फरिश्ते ही बुजुर्गों कि बारगाह को फैजान का समन्दर बनाते हैं । महासचिव विजय कुमार जैन ऐतिहासिक बुज़ुर्ग हज़रत ख्वाजा शैख सय्यद फतिहउद्दीन बलखी अलमारूफ तारा शाह चिश्ती साबरी के पीर आे मुर्शिद हज़रत ख्वाजा शैख सय्यद निज़ामुद्दीन बल्खी चिश्ती साबरी के 466 वे जश्न ए उर्स व […]

Continue Reading

बंगाली समाज की सांस्कृतिक विरासत है दुर्गा पूजा

दुर्गा पूजा का विवरण लगभग 16वीं ईसवी के दौरान बंगाल में मिलता है दुर्गा पूजा महोत्सव हिन्दू देवी माता दुर्गा की पूजा पर आधारित होता है जिन्हें उनके चार बच्चों कार्तिक, गणेश, लक्ष्मी और सरस्वती के साथ 10 भुजाओं वाली देवी के रूप में पूजा जाता है। माँ भगवती दुर्गा को 10 भुजाओं के साथ […]

Continue Reading

अमेरिकी राजदूत केनेथ जस्टर ने दिल्‍ली के छतरपुर स्‍थित देवी मंदिर में पूजा की

नई दिल्‍ली। भारत में अमेरिका के राजदूत केनेथ जस्टर ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी के प्रसिद्ध छतरपुर मंदिर का दौरा किया। Kenneth Juster ने अपने ट्विटर अकाउंट में अपनी यात्रा की तस्वीरें पोस्ट कीं और कहा कि मंदिर का दौरा करना बहुत अच्छा था। दिल्ली में छतरपुर मंदिर देवी दुर्गा के छठे रूप देवी कात्यायनी […]

Continue Reading

केदारनाथ की तर्ज पर बद्रीनाथ धाम के ल‍िए भी मास्टर प्लान, होंगे व‍िकास कार्य

देहरादून। अब केदारनाथ की तर्ज पर बद्रीनाथ धाम को भी विकसित करने का मास्टर प्लान बना ल‍िया गया है, ये मास्टर प्लान 481 करोड़ का है। इसे 2025 तक पूरा करने की योजना है। सरकार की योजना बद्रीनाथ क्षेत्र को मिनी स्मार्ट सिटी की तरह डेवलप करने की है। मिनी स्मार्ट सिटी की तरह डेवलप […]

Continue Reading

18 सितंबर से अधिकमास शुरू, पितृपक्ष के बाद शुरू नहीं होगी नवरात्रि

पितृ पक्ष के बाद 18 सितंबर से आश्विन मास का अधिकमास शुरू हो रहा है। इस माह की वजह से पितृ पक्ष के बाद नवरात्रि शुरू नहीं होगी। अधिकमास को अधिमास, मलमास और पुरुषोत्तम मास कहा जाता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार हर तीन साल में एक बार अधिकमास आता है। […]

Continue Reading