बोरिस जॉनसन पर पद छोड़ने का दबाव, ऋषि सुनक हो सकते हैं ब्रिटेन के अगले PM

INTERNATIONAL

कोरोना लॉकडॉउन के दौरान शराब पार्टी करने पर बुरी तरह से फंसे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन पर पद छोड़ने का दबाव बढ़ता जा रहा है। कहा यह भी जा रहा है कि बोरिस को कुर्सी से हटाया भी जा सकता है। ब्रिटेन के कई सांसद और विपक्षी नेता बोरिस के इस्‍तीफे की मांग कर रहे हैं। ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक अगर बोरिस पद छोड़ते हैं तो उनकी जगह पर भारतीय उद्योगपति नारायण मूर्ति के दामाद और ब्रिटेन के वित्‍त मंत्री ऋषि सुनक देश के पीएम बन सकते हैं।

दरअसल, पीएम बोरिस जॉनसन ने 2020 में देश में कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान एक गार्डन पार्टी में शामिल होने के लिए माफी मांगी है और कहा कि कुछ चीजों को उनकी सरकार ने ‘सही से नहीं लिया’।

लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री के डाउनिंग स्ट्रीट आवास के गार्डन में पार्टी कर जॉनसन और उनके कर्मियों द्वारा महामारी संबंधी पाबंदियों की अवहेलना किये जाने के दावों को लेकर उन्हें (जॉनसन को) जनता और नेताओं की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है।

बोरिस के ढाई साल के कार्यकाल में सबसे बड़ा संकट

इस बीच ब्रिटेन की एक प्रमुख सट्टा कंपनी ‘बेटफेयर’ ने दावा किया है कि संकट से घिरे बोरिस जॉनसन जल्द ही प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे और भारतीय मूल के वित्त मंत्री ऋषि सुनक उनकी जगह ले सकते हैं। बेटफेयर’ ने कहा है कि शराब पार्टी को लेकर हुए खुलासों के मद्देनजर 57 वर्षीय जॉनसन पर न केवल विपक्षी दलों बल्कि उनकी खुद की पार्टी की ओर से भी इस्तीफा देने का दबाव बढ़ रहा है। ‘बेटफेयर’ के सैम रॉसबॉटम ने बताया कि जॉनसन के हटने की सूरत में प्रधानमंत्री पद के लिये ऋषि सुनक के प्रधानमंत्री बनने की सबसे अधिक संभावना है।

इसके बाद लिज ट्रूस (विदेश मंत्री) और फिर माइकल गोव (कैबिनेट मंत्री) का स्थान आता है। रॉसबॉटम ने कहा कि इस दौड़ में पूर्व विदेश मंत्री जेरेमी हंट, भारतीय मूल की गृह मंत्री प्रीति पटेल, स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद और कैबिनेट मंत्री ओलीवर डॉउडेन भी शामिल हैं। जॉनसन के प्रधान निजी सचिव मार्टिन रेनॉल्ड्स की ओर से कथित तौर पर कई लोगों को पार्टी के लिये मेल भेजा गया था। हालांकि उस समय देश में कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए सार्वजनिक समारोह आयोजित करने पर पाबंदी लगी हुई थी। इस मामले को ‘पार्टीगेट’ कहा जा रहा है और यह सत्ता में जॉनसन के करीब ढाई साल के कार्यकाल में सबसे बड़े संकट के तौर पर उभरा है।

ऑक्सफर्ड-स्टैनफर्ड में पढ़ाई, जानें कौन हैं सुनक

1980 में सुनक ने विंचेस्टर कॉलेज से पढ़ाई पूरी की और ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी से इकॉनमिक्स, फिलॉसफी, पॉलिटिक्स की पढ़ाई की। अमेरिका की स्टैनफर्ड यूनिवर्सिटी से वह एमबीए भी पूरा कर चुके हैं। राजनीति में आने से पहले इन्वेस्टमेंट बैंक गोल्डमैन सैक्स और हेज फंड में बी काम कर चुके हैं। उन्होंने इन्वेस्टमेंट फर्म भी बनाई। उन्होंने 10 करोड़ पाउंड की एक ग्लोबल इन्वेस्टमेंट फर्म और छोटे ब्रिटिश बिजनस की स्थापना भी की। सुनक के पिता डॉक्टर थे और मां केमिस्ट की दुकान चलाती थीं। वे पंजाब से लंदन गए थे। वर्तमान में वह ब्रिटेन के व‍ित्‍त मंत्री हैं।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *