आयुष मंत्रालय ने कोरोना से बचाव के लिए जारी किए संशोधित दिशा-निर्देश

National

कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप एक बार फिर तेजी से बढ़ रहा है। ओमीक्रोन वेरिएंट आने के बाद नए मामलों की संख्या आसमान छू रही है। केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने हाल ही में लोगों के बेहतर स्वास्थ्य और कोरोना से बचाव के लिए आयुर्वेदिक उपायों के रूप में संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए हैं। मंत्रालय ने कहा कि लोगों को स्वस्थ रखने और संक्रमण से खुद को बचाने के लिए तमाम प्रयास किए जा रहे हैं।

कोरोना का नया रूप ओमीक्रोन (Omicron) बेहद खतरनाक माना जा रहा है और यह डेल्टा से भी ज्यादा घातक है। चिंता का विषय यह है कि इसके लक्षण सामान्य सर्दी-फ्लू से मिलते-जुलते हैं। जाहिर है सर्दियों का मौसम है और इस मौसम में सर्दी के लक्षणों का ज्यादा खतरा होता है। अधिकतर लोग फ्लू और ओमीक्रोन के लक्षणों की पहचान नहीं कर पा रहे हैं, जिस वजह से वो आसानी से इसकी चपेट में आ रहे हैं।

कोरोना वायरस का कोई स्थायी इलाज नहीं है। फिलहाल टीकाकरण और इम्यून पावर को मजबूत बनाकर इससे मुकाबला किया जा सकता है। तमाम हेल्थ एक्सपर्ट्स कोरोना से बचाव के लिए हेल्दी डाइट लेने और इम्यून पावर बढ़ाने की सलाह दे रहे हैं। घरेलू उपायों द्वारा इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करने और कोरोना से बचाव के लिए आयुष मंत्रालय ने भी कुछ उपाय साझ किये हैं।

कोरोना से बचाव के लिए घरेलू उपचार

कोरोना से बचाव के लिए दिन भर में कई बार गर्म पानी पिएं। दिन में कम से कम 30 मिनट योग, प्राणायाम और ध्यान करें। हल्दी, जीरा और धनिया जैसे मसाले जरूर खाएं। खाना पकाने में लहसुन का प्रयोग अवश्य करें।

इम्यून सिस्टम मजबूत करने के आयुर्वेदिक उपाय

10 ग्राम च्यवनप्राश सुबह के समय लें। डायबिटीज के रोगियों को शुगर फ्री च्यवनप्राश का सेवन करना चाहिए। तुलसी और दालचीनी से बनी हर्बल चाय/काढ़े का सेवन अवश्य करें। दालचीनी, काली मिर्च, सोंठ और किशमिश का सेवन दिन में एक या दो बार करना चाहिए। गुड़ और नींबू के रस का सेवन करें। दिन में एक बार हल्दी गर्म दूध का सेवन करें।

कोरोना से बचाव के लिए आयुर्वेदिक उपाय

तिल का तेल/नारियल का तेल या घी सुबह-शाम नथुने में लगाएं। ऑयल पुलिंग थेरेपी का इस्तेमाल करें। इसके लिए एक चम्मच तिल या नारियल के तेल को 2 से 3 मिनट के लिए अपने मुंह में घुमाएं। यह दिन में एक या दो बार किया जा सकता है। सूखी खांसी और गले में खराश से पीड़ित हैं तो ताजी पुदीने की पत्तियों या अजवाइन और अदरक के साथ भाप लें। 2-3 कलियों का चूर्ण गुड़ या शहद में मिलाकर लें।

घरेलू उपायों के साथ कोरोना नियमों का पालन जरूरी

आयुष मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना से बचाव के लिए सभी नियमों का पालन करना जरूरी है। घरेलू उपायों से कोरोना से पूरी तरह बचाव नहीं हो सकता है इसलिए कोरोना से जुड़े जरूरी दिशा-निर्देशों का पालन करते रहना आवश्यक है।

मंत्रालय ने कहा है कि लोगों को मास्क पहनना, हाथों के अच्छी तरह धोना, शारीरिक और सामाजिक दूरी का पालन करना, टीकाकरण, हेल्दी डाइट और अन्य स्वास्थ्य देखभाल जैसे नियमों का पालन करना चाहिए।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *