‘कमाल’ के टीवी पत्रकार कमाल ख़ान का हार्ट अटैक से निधन

National

रामनाथ गोएनका और गणेश शंकर विद्यार्थी सम्मान पाने वाले वरिष्ठ पत्रकार कमाल ख़ान का लखनऊ में शुक्रवार सुबह हार्ट अटैक से निधन हो गया.

टीवी न्यूज़ की दुनिया में एक लंबे अरसे से काम कर रहे कमाल ख़ान अपनी धारदार रिपोर्टिंग और बेहतरीन टीवी रिपोर्ट्स के लिए जाने जाते थे.

लगभग 22 वर्षों के अनुभव के साथ कमाल ख़ान पिछले काफ़ी समय से लखनऊ में रहते हुए एनडीटीवी के लिए रिपोर्टिंग कर रहे थे.

हाल ही में अयोध्या ज़मीन विवाद से लेकर उत्तर प्रदेश चुनाव से जुड़ी उनकी तमाम ख़बरें चर्चा का विषय बनी थीं.
अब से कुछ घंटे पहले कमाल ख़ान की एक वीडियो रिपोर्ट एनडीटीवी पर प्रकाशित हुई है जिसमें वह उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्रियों के इस्तीफ़े के राजनीतिक मायने बता रहे थे.

इस रिपोर्ट में उन्होंने बताया था कि बीजेपी छोड़ने वाले तमाम विधायकों में से तमाम लोग ऐसे हैं जिनके टिकट काटे जाने की ख़बरें आ रही थीं और इन ख़बरों के बीच ही उन्होंने पार्टी छोड़ने का फ़ैसला किया.

एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने कहा है कि वह कमाल ख़ान के निधन की ख़बर सुनकर सदमे में हैं.

उन्होंने कहा, “न सिर्फ उनके सहयोगियों बल्कि टीवी न्यूज़ के करोड़ों दर्शकों के लिए ये एक बहुत दुख़द और अफ़सोसनाक ख़बर है. हम सब के लिए यक़ीन करना मुश्किल हो रहा है कि कमाल ख़ान अब हमारे बीच में नहीं हैं. उनके बारे में बहुत बातें की जा सकती हैं लेकिन इस वक़्त ऐसा सदमा लगा है कि न कुछ याद आ रहा है, न कुछ समझ में आ रहा है कि उनके बारे में क्या कहा जाए.

हर किसी के पास एक अलग-अलग कमाल ख़ान हैं. उनकी रिपोर्टिंग की अपनी यादें हैं.”

कमाल ख़ान के निधन पर कई लोगों ने अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की है.

एनडीटीवी के साथ काम कर चुके वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी कमाल ख़ान को याद करते हुए ट्वीट किए.
राजदीप लिखते हैं, “आज सुबह मेरे पास आपको देने के लिए एक बेहद दुख़द ख़बर है. लखनऊ से रिपोर्ट करने वाले एनडीटीवी के बेहतरीन रिपोर्टर और मेरे बेहद अजीज़ मित्र कमाल ख़ान का आज सुबह निधन हो गया. मेरे दोस्त मुझे आपकी और हमारे बीच होने वाली चर्चाएं याद आएंगी. कई यादें हैं. बुरी तरह दुखी हूं.”

बीजेपी नेता मुख़्तार अब्बास नक़वी ने कमाल ख़ान को याद करते हुए ट्वीट किया है.

उन्होंने लिखा है, “मैं शानदार वरिष्ठ पत्रकार एवं एक महान इंसान कमाल ख़ान साहब के निधन की ख़बर सुनकर स्तब्ध हूं. पत्रकारिता की दुनिया के लिए उनका जाना एक अपूर्णनीय क्षति है. अल्लाह उनके परिवार और दोस्तों को यह दुख सहन करने की क्षमता दे.”

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *