आगरा: आमंत्रण यात्रा निकाल हिंदूवादी संगठन ने 6 दिसंबर को श्री कृष्ण जन्मभूमि पर जलाभिषेक करने का किया आवाहन

City/ state Regional

आगरा: 6 दिसंबर को मथुरा श्री कृष्ण जन्मभूमि पर लड्डू गोपाल के होने जा रहे जलाभिषेक को लेकर अखिल भारत हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने इस कार्यक्रम में शहर वासियों को आमंत्रित करने के लिए आमंत्रण यात्रा निकाली। अखिल भारत हिंदू महासभा के कार्यकर्ता शनिवार सुबह रावली मंदिर पहुंचे। यहां पर भगवान श्री कृष्ण के जयकारों के साथ आमंत्रण यात्रा की शुरुआत की गई और लोगों को आमंत्रण पत्र वितरित करते हुए सभी से 6 दिसंबर को श्री कृष्ण जन्मभूमि पर पहुंचने की अपील की गई।

शनिवार सुबह अखिल भारत हिंदू महासभा के सभी कार्यकर्ता और पदाधिकारी रामेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे। यहां पर आमंत्रण यात्रा शुरू करने से पहले महासभा के पदाधिकारियों ने भगवान भोलेनाथ के दर्शन किए और रावली महादेव, एमजी रोड से आमंत्रण यात्रा की शुरुआत की। यह आमंत्रण यात्रा छीपीटोला, काजीपाड़ा होते हुए बिजली घर चौराहे पर जाकर समाप्त हुई।

श्री कृष्ण जन्मभूमि पर होगा जलाभिषेक

अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय जाट ने बताया कि महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के आवाहन पर 6 दिसंबर को महासभा की सभी कार्यकर्ता और पदाधिकारी श्री कृष्ण जन्म भूमि पर लड्डू गोपाल का जलाभिषेक करेंगे। उस कार्यक्रम में हजारों की संख्या में लोग भाग लेंगे। महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय जाट का कहना है कि जब से भगवान श्री कृष्ण की जन्मभूमि पर मस्जिद बनी है उसके बाद एक पहली बार भगवान श्री कृष्ण की जन्मभूमि पर इस तरह का कार्यक्रम होने जा रहा है।

मंदिर बनाने का लेंगे संकल्प

अखिल भारत हिंदू महासभा के जिला अध्यक्ष रौनक ठाकुर का कहना है कि 6 दिसंबर को प्रभु लड्डू गोपाल का जलाभिषेक करने के साथ ही हजारों की संख्या में मौजूद महासभा के कार्यकर्ता श्री कृष्ण जन्मभूमि पर ही भगवान श्री कृष्ण का भव्य मंदिर बनवाने का संकल्प लेंगे। इसके लिए चाहे फिर कोई भी कदम उठाना पड़े। उनका कहना था कि जैसे अयोध्या को मुगल शासकों की निशानी से मुक्त कराया गया है उसी तरह से भगवान श्री कृष्ण की जन्मभूमि को भी मस्जिद से मुक्त कराया जाएगा।

अखिल भारत हिंदू महासभा कार्यकर्ताओं की ओर से आमंत्रण यात्रा निकाले जाने को लेकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। भारी संख्या में मौजूद पुलिस बल व क्षेत्रीय पुलिस अधिकारियों ने महासभा के पदाधिकारियों से वार्ता की और फिर पुलिस की देखरेख में ही यह आमंत्रण यात्रा निकाली गई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *