आगरा: पिनाहट कस्बा में संदिग्ध बुखार से उपचार के दौरान एक और बच्ची की हुई मौत, अब तक 31 की हुई मौत

Regional Uttar Pradesh

आगरा जनपद के पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र में संदिग्ध वायरल बुखार का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है लगातार बच्चों की मौत हो रही है। संदिग्ध बुखार के चलते 1 वर्षीय बच्ची की उपचार के दौरान मौत हो गई जिससे परिजनों में कोहराम मच गया है तो वहीं अब तक 29 बच्चों सहित दो युवकों की मौत हो चुकी है।

जानकारी के अनुसार पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र में लगातार वायरल डेंगू मलेरिया का प्रकोप बढ़ता जा रहा है जिसके कारण दर्जनों बच्चों की मौत हो चुकी है।

गांव-गांव स्वास्थ विभाग चल रही बीमारी को रोकने के लिए कैंप लगाकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवा वितरित कर रही है साथ ही मच्छरों से बचाव के लिए लोगों को अपने शरीर को ढकने के लिए और साफ-सफाई व्यवस्था के साथ रहने के लिए जागरूक किया जा रहा है। मगर संदिग्ध वायरल बुखार से मरने वाले बच्चों का सिलसिला जारी है।

वही कस्बा पिनाहट के मोहनलाल चांदनी चौक निवासी शाकिर की 1 वर्षीय पुत्री सनाजा को 4 दिन से लगातार बुखार आ रहा था। परिजन निजी चिकित्सकों से बच्ची का इलाज करा रहे थे ।बच्ची थी तबीयत बिगड़ने पर परिजन मध्य प्रदेश के ग्वालियर में इलाज के लिए परिजनों ने भर्ती कराया था। जहां मंगलवार को बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई। बच्ची की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया है।

लगातार संदिग्ध बुखार के चलते पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र में अब तक 29 बच्चों सहित दो युवकों की 31की मौत हो चुकी है। बच्चों के बुखार को लेकर ग्रामीण क्षेत्र में लोग चिंतित दिखाई दे रहे हैं।

लगातार स्वास्थ्य विभाग की टीम ग्रामीण क्षेत्र में गांव गांव कैंप लगाकर लोगों को जागरूक कर रही है साथ ही स्वास्थ्य परीक्षण कर दवाएं भी वितरित की जा रही है।

गांव में नहीं हो रही सफाई व्यवस्था

पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र में अब तक लगातार संदिग्ध वायरल बुखार के चलते उपचार के दौरान 29 बच्चों दो युवकों सहित 31 लोगों की मौत हो चुकी है। जिला प्रशासन के प्रशासनिक अधिकारी लगातार गांव गांव जाकर विजिट कर चुके हैं और साफ सफाई के लिए ग्राम प्रधान एवं तहसील विकासखंड अधिकारियों को भी दवा छिड़काव एवं दवा वितरण के साथ तालाबों की सफाई के लिए दिशा निर्देश दे चुके हैं। मगर अधिकारियों के आदेश के बावजूद भी ग्रामीणों का आरोप है कि कई गांव में गंदगी का अंबार लगे हुए हैं अभी तक कई गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम नहीं पहुंची है साथ ही कई गांव में गंदगी पसरी पड़ी हुई है गांव के ग्राम प्रधान एवं पंचायत सचिव पूरी तरह से लापरवाह है जिसके चलते बीमारी और ज्यादा पनप रही है। ग्रामीणों ने गांव में दवा छिड़काव एवं साफ सफाई व्यवस्था की मांग की गई है।

-नीरज परिहार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *