आगरा: बारिश में सड़कों पर हो रहे गड्ढों को न भरने के चलते वबाग कंपनी पर मुकदमा दर्ज़, 40 लाख का जुर्माना

City/ state Regional

आगरा: सीवर नेटवर्क की देखरेख और मरम्मत में लापरवाही बरतना वबाग कंपनी को भारी पड़ गया है। कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर और वबाग कंपनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के साथ 40 लाख का जुर्माना लगाने के आदेश आगरा मंडलायुक्त अनिल कुमार ने दिये है। मंडलायुक्त ने यह कार्यवाही दयालबाग 100 फुटा रोड पर सीवर लाइन लीकेज के कारण हुए गड्ढे तथा लाइन की मरम्मत मामले में लापरवाही बरतने पर की है। यह पहला मौका है जब सड़क में गड्ढे और सीवर लीकेज पर कंपनी के खिलाफ एफआईआर और जुर्माने की कार्रवाई की गई है। 

मंडलायुक्त ने वबाग कंपनी के अधिकारियों से दयालबाग के गड्ढों को न भरने पर फटकार लगाते हुए कारण पूछा तो अजीब सा उत्तर मिला। कंपनी के अधिकारियों ने कहा कि गाजियाबाद से टीम आ रही है। इस जवाब से मंडलायुक्त काफी नाराज हुए और वबाग के अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने जलकल विभाग के महाप्रबंधक आरएस यादव को वबाग के प्रोजेक्ट मैनेजर समेत कंपनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने व कंपनी पर 40 लाख का जुर्माना लगाने के आदेश दिए।

दयालबाग 100 फीट रोड पर 20 फीट से ज्यादा चौड़े गड्ढे और सुलहकुल नगर में 100 मीटर लंबी सड़क के धंसने से हुए गड्ढों के मामले में लापरवाही बरतने पर मंडलायुक्त ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को तलब किया था। जलनिगम अधिकारियों से निगरानी न करने पर मंडलायुक्त ने नाराजगी जताई तो जलनिगम के अधिकारियों ने बताया कि कंपनी के भुगतान में हर माह 10 फीसदी की कटौती कर कार्यवाही की जा रही है।

बैठक में शामिल नगर आयुक्त निखिल टी फुंडे ने बताया कि कंपनी के खिलाफ सीवर नेटवर्क, एसटीपी संचालन में लगातार शिकायतें मिल रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *