किसी राज्‍य ने नहीं दिया ऑक्‍सीजन की कमी से मौतों का आंकड़ा: बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा

Politics

नई दिल्‍ली। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्‍सीजन की कमी से किसी की मौत नहीं हुई है। राज्यों की ओर से इसकी सूचना नहीं दी गई है, संसद में सरकार की ओर से आए इस जवाब के बाद सियासी घमासान छिड़ गया है। विपक्षी दलों ने सरकार के ऊपर कई आरोप लगाए हैं। वहीं बीजेपी ने इन आरोपों पर पलटवार किया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि किसी राज्य ने नहीं कहा कि ऑक्‍सीजन की कमी से मौत हुई है।

संबित पात्रा ने बुधवार कहा कि केंद्र कह रहा है कि किसी भी राज्य/केंद्रशासित प्रदेश ने ऑक्‍सीजन की कमी से मौत हुई हो इस पर आंकड़ा नहीं भेजा। किसी ने भी नहीं कहा कि उनके राज्य में ऑक्‍सीजन की कमी से कोई मौत हुई है इसलिए इसके आंकड़े नहीं हैं। संबित पात्रा ने सवाल पूछते हुए कहा कि क्या ये डेटा केंद्र ने बनाया नहीं, राज्यों ने नहीं भेजा कोई आंकड़ा।

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया बताएं कि क्या आपकी सरकार ने केंद्र को जो आंकड़े दिए हैं उसमें से एक भी मरीज की मौत ऑक्‍सीजन की कमी के कारण हुई है ऐसा लिखकर दिया है क्या।

बीजेपी मुख्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए संबित पात्रा ने राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल, संजय राउत समेत दूसरे नेताओं पर कई आरोप जड़ दिए। संबित पात्रा ने कहा कि वैक्सीन हो या महामारी हर विषय में झूठ और भ्रम फैलाना इनकी आदत है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली और देश के कई जगहों पर ऑक्‍सीजन की कमी से मौतें हुईं। ऑक्‍सीजन की कमी से जो मौतें हुई हैं उन्हें 5 लाख मुआवजा देने के लिए हमने कमेटी बनाई थी जिसे उपराज्यपाल ने भंग कर दिया।

कांग्रेस ने मंगलवार को स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार पर यह ‘गलत सूचना’ देकर संसद को गुमराह करने का आरोप लगाया कि कोविड महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्‍सीजन की कमी के कारण किसी की मौत नहीं हुई। कांग्रेस नेता के सी वेणुगोपाल ने कहा कि वह मंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन नोटिस लाएंगे क्योंकि उन्होंने सदन को ‘गुमराह’ किया है।

वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि मैं यह सुनकर अवाक हूं। ऑक्‍सीजन की कमी से जिन्होंने अपने लोगों को खोया है यह बयान सुनकर उन पर क्या बीत रही होगी। सरकार के खिलाफ मुकदमा होना चाहिए क्योंकि झूठ बोला गया है।

एक सवाल के जवाब में सरकार ने राज्यसभा में कहा कि कोरोना महामारी के दौरान ऑक्‍सीजन की कमी से किसी के मरने की कोई सूचना किसी राज्य या केंद्रशासित प्रदेश से नहीं है। सरकार की ओर से दिए गए जवाब में कहा कि स्वास्थ्य राज्यों का विषय है और उनकी ओर से कोविड से हुई मौत की सूचना दी जाती है लेकिन इसमें भी ऑक्‍सीजन की कमी से किसी मौत की सूचना नहीं है।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *