आगरा: महिलाओं की हुई प्रसव पूर्व जांच

Local News

=स्वास्थ्य इकाइयों प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षित अभियान दिवस
= कोविड से गर्भवती महिलाओं बचाव के दिए टिप्स

आगरा: प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षित अभियान दिवस के मौके पर बुधवार को शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के स्वास्थ्य केंद्रों पर गर्भवती महिलाओं की प्रसवपूर्व जांच की गई। उनके साथ आई महिलाओं को परिवार नियोजन के साधनों को उपलब्ध भी कराया गया.
नेशनल हेल्थ मिशन के नोडल अधिकारी डॉ. संजीव वर्मन ने बताया कि बुधवार को स्वास्थ्य इकाईयों पर प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षित अभियान दिवस कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मनाया गया। गर्भवती महिलाओं का अल्ट्रासाउंड सहित, यूरिन, हीमोग्लोविन, शुगर, सिफलिस, वजन, ब्लड प्रेशर, ब्लड ग्रुप और एचआईवी और कोविड -19 की जाँच की गई।

परिवार नियोजन के नोडल अधिकारी डॉ. विनय कुमार ने बताया कि पीएमएसएम दिवस पर लक्ष्य दंपत्तियों को परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने के लिए प्रेरित किया गया। टोल फ्री अंतरा केयरलाइन 1800-103-3044 के जरिए महिलाओं को अवगत कराया गया।महिलाएं इससे आसानी से जुड़ सकती हैं। टोल फ्री नंबर डायल करने पर अंतरा से जुड़ी़ हर समस्या पर उचित सलाह परामर्शदाता से आसानी से मिल जाती है। अंतरा इंजेक्शन लगवाते ही लाभार्थी अंतरा केयर लाइन नंबर डायल करके पंजीकरण कराएं ताकि उन्हें समय-समय पर जरूरी सलाह मिलती रहे। सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक इस नंबर पर कॉल की जा सकती है। अभियान में यूपीटीएसयू के जिला परिवार नियोजन विशेषज्ञ आलोक सक्सेना का योगदान रहा

अकोला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जिला मातृ स्वास्थ परामर्शदाता संगीता भारती ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की डीपीसी सन्नू के साथ प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्वअभियान में सपोर्टिव सुपरविजन किया।

जिला मातृ स्वास्थ परामर्शदाता संगीता भारती ने बताया अकोला सीएचसी पर 117 द्वितीय तिमाही एवं तृतीय तिमाही गर्भवती महिलाओं की प्रसवपूर्व जांच यूरिन, हीमोग्लोविन, शुगर, सिफलिस , वजन, ब्लड प्रेशर, ब्लड ग्रुप और एचआईवी और कोविड -19 की जाँच की गयी।

जीवनी मंडी नगरीय स्वास्थ्य केंद्र की प्रभारी डॉ. मेघना शर्मा ने बताया कि केंद्र पर कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए पीएमएसएमए दिवस का आयोजन किया गया। इसमें 77 गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य का परीक्षण किया गया। उन्होंने बताया कि सभी महिलाओं की एचआईवी सहित सिफलिस, ब्लड इत्यादि की जांच की गई।

कोविड से बचाव के दिए टिप्स

डा. मेघना ने बताया कि कोरोना काल में गर्भवती को अपना खास ख्याल रखने की जरूरत है, क्योंकि गर्भावस्था के दौरान आम दिनों की अपेक्षा रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है। इसलिए कोविड-19 के संक्रमण से बचने के लिए घर पर रहकर अपने स्वास्थ्य का खास ख्याल रखें। खाने पीने का विशेष ध्यान दें, व्यायाम करें और डॉक्टर से संपर्क करती रहे। समय-समय पर अपनी जांच कराती रहे। गर्भवती को कोरोना से डरने की नहीं बल्कि लड़ने की जरूरत है। गर्भवती को गर्भ के तीसरे और चौथे माह में स्वास्थ्य की जांच जरूर करानी चाहिए और आठवें व नवें माह में अस्पताल जाकर अपनी जाँच करानी चाहिए।

-up18 News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *