मथुरा: बांके बिहारी मंदिर में ऑनलाइन पंजीकरण के बाद ही कर पाएंगे दर्शन

Religion/ Spirituality/ Culture

वृंदावन (मथुरा)। कोविड के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए ठाकुर बांके बिहारी मंदिर में आज से ऑनलाइन पंजीकरण करवाने वाले भक्तों को ही दर्शन का मौका मिल रहा है। ई पास के जरिए शुरू हुई इस दर्शन व्यवस्था का व्यापक असर भी देखने को मिला। मंगलवार से शुरू हुई व्यवस्था के बाद अब पूरी तरह भीड़ पर नियंत्रण के साथ कोविड-19 की गाइडलाइंस का पालन करवाने में मंदिर प्रबंधन कामयाब नजर आया।

ठाकुर बांके बिहारी मंदिर में मंगलवार की सुबह से केवल ऑनलाइन पंजीकरण करवाकर आने वाले भक्तों को ही मंदिर में प्रवेश मिला। मंदिर चबूतरे पर सुरक्षा गार्डों ने श्रद्धालुओं की आईडी चेक करने के साथ ऑनलाइन पंजीकरण की लिस्ट में नाम देखकर ही भक्तों को प्रवेश दिया। मंदिर के प्रवेश द्वार पर सेनेटाइजेशन की प्रक्रिया से गुजरते हुए भक्त मंदिर प्रांगण में पहुंचे, यहां भी सामाजिक दूरी के नियम का पालन करवाते हुए भक्तों को दर्शन कर बाहर निकाला जाता रहा ताकि भीड़ एकत्रित न हो सके।

विदित हो कि पिछले दिनों अचानक शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही थी लेकिन ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर में भक्तों की भीड़ को काबू कर पाना मंदिर प्रबंधन और प्रशासन के लिए नामुमकिन हो चला था। कोरोना के प्रभाव को बेअसर करने के लिए मंदिर प्रबंधन ने मंगलवार से ऑनलाइन पंजीकरण व्यवस्था लागू कर पंजीकरण करवाने वाले श्रद्धालुओं को ही दर्शन की अनुमति का एलान कर दिया। ऑनलाइन पंजीकरण के जरिये हर दिन केवल दो हजार श्रद्धालुओं को ही दर्शन संभव हो सकेंगे।

गेट संख्या दो व तीन से मिल रहा प्रवेश

ठा. बांकेबिहारी मंदिर में आनलाइन पंजीकरण करवाकर आ रहे श्रद्धालुओं को गेट संख्या दो व तीन से प्रवेश मिल रहा है जबकि निकास के लिए गेट संख्या चार व एक को रखा गया है। विद्यापीठ से पुलिस चौकी के रास्ते आने वाले श्रद्धालु गेट संख्या तीन तथा वीआईपी मार्ग व दाऊजी तिराहा से आने वाले श्रद्धालुओं को गेट संख्या दो से प्रवेश दिया जा रहा है।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *