पीएम मोदी करेंगें आगरा मेट्रो रेल परियोजना का ऑनलाइन उद्घाटन, सीएम योगी भी रहेंगे मौजूद

Regional

आगरा 1 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) आगरा मेट्रो (Agra Metro) रेल परियोजना का उद्घाटन करेंगे। इस ऑनलाइन उद्घाटन समारोह में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) भी उपस्थित रहेंगे। आगरा के जिलाधिकारी प्रभु एन. सिंह (Prabhu Narayan Singh) द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री 1 दिसंबर को मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य लोगों की उपस्थिति में परियोजना का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम के लिए आवश्यक व्यवस्था की जा रही है।

बता‌ दें चरणबद्ध तरीके से मेट्रो स्टेशनों का काम किया जा रहा है। इसी क्रम में पहले चरण में तीन मेट्रो स्टेशन – ताज ईस्ट गेट, बसई और फतेहाबाद रोड का निर्माण कार्य होगा जिसके लिए चार किमी लंबे ट्रैक का 26 महीने के भीतर 273 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से निर्माण कार्य किया जाएगा।

गौरतलब है कि 28 फरवरी, 2019 को केंद्रीय कैबिनेट द्वारा आगरा मेट्रो रेल परियोजना को दो गलियारों के साथ मंजूरी दी गई थी, ये गलियारे आगरा में प्रमुख सार्वजनिक नोड्स, पर्यटन स्थलों और शहर क्लस्टर क्षेत्रों को जोड़ने का काम करेंगें। उप्र मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (यूपीएमआरसी, UPMRC) के अधिकारियों के अनुसार, 8,379.62 करोड़ रुपये की आगरा मेट्रो रेल परियोजना शहर में शहरी सार्वजनिक परिवहन कनेक्टिविटी को बढ़ावा देगी।

केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा अनुमोदित विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीआरपी) के मुताबिक, आगरा मेट्रो रेल परियोजना में दो गलियारे बनाए जाएंगे जो शहर के बीचों बीच से होकर गुजरेंगे और ताजमहल (Tajmahal), आगरा किला (Agra Fort), एत्माद्दौला (Etmad-Ud-Daula) और सिकंदरा (Sikandra) सहित प्रमुख पर्यटन स्थलों को जोड़ेंगे, साथ ही प्रमुख सरकारी दफ्तरों, अस्पतालों और बाजार स्थानों को भी आपस में जोड़ने का काम करेंगें।

शहर भर में 29.4 किलोमीटर रेल गलियारे के साथ कुल 27 मेट्रो स्टेशन (Metro Station) बनाए जाएंगे। उद्घाटन कार्यक्रम होने से पहले कॉरिडोर के निर्माण के लिए फतेहाबाद रोड पर बैरिकेडिंग की जा रही है। अलावा इसके पहले मेट्रो ट्रेन स्टेशन की नींव फतेहाबाद रोड स्थित टीडीआई मॉल (TDI Mall) के सामने रखी जाएगी। मेट्रो रेल प्रणाली के लागू होने के बाद आगरा की सड़कों पर वाहनों का आवागमन पहले की अपेक्षा कम हो सकेगा जिससे सड़कों पर वाहनों की और लोगों की भीड़-भाड़ कम दिख सकेगी, साथ ही सड़क दुर्घटनाओं और बढ़ते प्रदूषण (Pollution) में गिरावट आ सकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *