IPL-2020: कोहली ने कहा, इस बार हर तरह की परिस्थिति के लिए कर रखी है रणनीति तैयार

SPORTS

अबू धाबी। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि उनकी टीम ने इस बार हर तरह की परिस्थिति के लिए रणनीति तैयार कर रखी है और यही कारण है उन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ वॉशिंगटन सुंदर की जगह मोहम्मद सिराज को नई गेंद सौंपी। कोहली की यह रणनीति कारगर साबित हुई। सिराज ने चार ओवर में आठ रन देकर दो विकेट लिए। केकेआर आठ विकेट पर 84 रन ही बना पाया। आरसीबी ने 13.3 ओवर में लक्ष्य हासिल करके इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में अपनी स्थिति मजबूत की।

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मैं वाशी (सुंदर) को नई गेंद सौंपने की सोच रहा था। टॉस गंवाना अच्छा रहा क्योंकि हम भी पहले बल्लेबाजी करते। हमारी रणनीति वाशी और (क्रिस) मॉरिस से गेंदबाजी का आगाज करवाना था लेकिन तब हमने मॉरिस और सिराज को नई गेंद सौंपने का फैसला किया।’

उन्होंने कहा, ‘टीम प्रबंधन ने ऐसी संस्कृति तैयार की है जहां सटीक रणनीति होती है। हमारे पास प्लान ए, प्लान बी और प्लान सी होता है। हमें इस रणनीति पर अमल करना होता है। हमने नीलामी में भी कुछ चीजें की थी जिसका फायदा मिल रहा है। आपके पास सभी योजनाएं होती है लेकिन आपको अपने खिलाड़ियों पर विश्वास होना चाहिए।’

कोहली ने मॉरिस और सिराज की विशेष रूप से प्रशंसा की। उन्होंने कहा, ‘मॉरिस जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं। वह ऐसे खिलाड़ी हैं जो नेतृत्व करना चाहते हैं। वह ऊर्जावान हैं। वह गेंद से, बल्ले से और क्षेत्ररक्षण में योगदान दे सकते हैं।’

कोहली ने कहा, ‘सिराज के लिए पिछला साल मुश्किल रहा और उनकी काफी आलोचना हुई। इस बार उन्होंने कड़ी मेहनत की और वह नेट्स पर भी अच्छी गेंदबाजी कर रहे थे। अब उसके परिणाम नजर आ रहे हैं।’

मैन ऑफ द मैच सिराज ने कप्तान कोहली का आभार व्यक्त किया जिन्होंने उन्हें नई गेंद सौंपी। उन्होंने कहा, ‘विराट का आभार कि उन्होंने मुझे नई गेंद दी। मैंने नई गेंद से काफी अभ्यास किया था। हमने यह योजना नहीं बनाई थी कि मैं नई गेंद से गेंदबाजी करूंगा लेकिन जब हम मैदान पर पहुंचे तो विराट भाई ने कहा, मियां तैयार हो जाओ। नितीश राणा को की गई गेंद बहुत अच्छी थी। हमने वैसा ही किया जैसे रणनीति बनाई थी।’

केकेआर के कप्तान इयॉन मॉर्गन स्वाभाविक था कि इस हार से निराश थे लेकिन उन्होंने कहा कि वह शीर्ष क्रम भारत के तीनों बल्लेबाजों शुभमन गिल, राहुल त्रिपाठी और नितीश राणा पर भरोसा बनाए रखेंगे। मोर्गन ने कहा, ‘हमने शुरू में ही चार या पांच विकेट गंवा दिए। हम ऐसी शुरुआत नहीं चाहते थे। यह निराशाजनक था। आरसीबी ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की लेकिन हमें उनका अच्छी तरह से सामना करना चाहिए था। ओस को ध्यान में रखकर हमें शायद पहले गेंदबाजी करनी चाहिए थी।’

उन्होंने कहा, ‘शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों के चयन को लेकर हमने निरंतरता दिखाई है। हमारा मानना है कि वे हमें आगे ले जा सकते हैं। उन्होंने अपनी क्षमता दिखाई है इसलिए भारतीय बल्लेबाजों पर विश्वास दिखाना महत्वपूर्ण है।’

आंद्रे रसल और सुनील नारायण पूरी तरह से फिट नहीं होने के कारण इस मैच में नहीं खेल पाए लेकिन मोर्गन ने उम्मीद जताई कि वे अगले मैच में चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने कहा, ‘उम्मीद है कि रसल और नारायण फिट होकर चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। उन जैसे दो शानदार खिलाड़ियों की बहुत कमी खलती है।’

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *