आगरा: आत्मनिर्भरता की ओर धनौली सेन्सस टाउन- टाउन एरिया के लिए समिति बनाने पर अग्रसर वहां के निवासी

Press Release

आगरा।महारानी अहिल्याबाई स्कूल,मुल्ला की पिय्याऊ, धनौली में एक बैठक का आयोजन कर सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा और क्षेत्र के प्रभुद्जनों ने क्षेत्र के विकास, जल्दी ही बनने वाले सिविल एन्क्लेव और समस्याओं पर चर्चा की.

धनौली उत्तर भारत के बड़े सेन्सस टाउनओं में से एक है. २०११ के सेन्सस के अनुसार धनौली का एरिया ७.०८ वर्ग किलोमीटर है; घनत्व ४०९५/वर्ग किलोमीटर है और
जनसंख्या बदलाव (2001 से 2011) प्रतिशत +२.०९% है. वर्ष २०११ में जनसंख्या २८९९० थी. यहाँ पर भारतीय वायुसेना कि भी उपस्थिति है. 
और अब जल्दी हि सिविल एन्क्लेव भी बनेगा. आगरा शहर के आउटर रिंग रोड से कनेक्टिविटी भी है.
इन सब को देखते हुए क्षेत्र का समग्र विकास होगा . जागरूक क्षेत्रीय निवासियों को आत्मनिर्भरता के साथ आगे होने वाले विकास में सहभागिता में 
भी योगदान देना है. इसी विषय पर सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा और क्षेत्रीय निवासियों ने बैठक की. बताते चलें के सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा 
विगत कई वर्षों से धनौली में सिविल एन्क्लेव के लिए प्रयासरत है.
अभी धनौली का विकास जिला पंचायत के अधीन है. विकास की स्तिथि जग जाहिर है, सड़कें टूटी हैं;नाला बना दिया है पर पानी निकासी का 
कोई इन्तज़ाम नहीं है. पानी नाले में रुका हुआ है, बरसात में पानी सड़क और घरों में इकट्ठा होता है. समस्या अनेक हैं समाधान के लिए
जन प्रतिनिधि हैं पर सब एक तो दूर हैं और क्षेत्र के लिए उन के पास टाइम नहीं है.
निवासी नगर निगम का एक वार्ड बन अपनी पहचान नहीं खोना चाहते, जिला पंचायत से अभी तक विकास के लिए समर्थन नहीं मिला.उन का सोचना
है के भारतीय वायुसेना और भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण की उपस्थिति और सहभागिता वाले टाउन एरिया या कैंटोनमेंट एरिया से क्षेत्र का विकास 
योजनाबद्ध और प्रभावी होगा. धनौली के साथ अभयपुरा, भलेरा और मलपुरा को जोड़ कर पूरे क्षेत्र का समग्र विकास किया जा सकता. 
ऐसा होने पर नौकरी और बिज़नेस की संभावनाएं कई गुना हो जायेंगी. फिर क्षेत्रीय निवासी आगरा शहर का रुख जल्दी नहीं करेंगे. आगरा में अभी
के टाउन एरियाओं में धनौली सिविल एन्क्लेव और भारतीय वायुसेना के कारण, सब से महत्वपूर्ण स्थान रखता है. अपनी बात आगे रखने के लिए 
सभी क्षेत्रीय निवासियों ने सर्वसम्मति से समिति बनाने का निर्णय लिया. यह समिति जन प्रतिनिधियों से बात करेगी.
सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा का मानना है के धनौली क्षेत्र के विकास से आगरा का भी विकास होगा. आज आगरा नगर निगम का दायरा बहुत बड़ा
हो गया है. नगर निगम जो हाथ में है उस के साथ ही न्याय नहीं कर पा रहा है और कार्य के बोझ को मुश्किल से कर पा रहा है. धनौली को एक 
और वार्ड बनाना इतने महत्वपूर्ण एरिया के साथ न इंसाफी होगी. इसलिए जल्दी से जल्दी टाउन एरिया बनाया जाये. सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा
भारतीय वायु सेना से भी पत्राचार कर मिलेगी. सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा ने नव गठित समिति को शुभ कामनाएं दी और पूरे समर्थन का
विश्वास दिलाया.
इस बैठक में धनौली के श्री मणिकांत शर्मा, श्री तुलाराम शर्मा; श्री निहाल सिंह भोले, अधिवक्ता तेज सिंह बघेल;श्री तारा चन्द बघेल, 
अधिवक्ता तारा चन्द, समाजसेवी श्री नरेन्द्र वरुण, श्री के के बघेल, श्री ब्रिजेंद्र शर्मा, श्री नरेन्द्र राजपूत, श्री देवेन्द्र, श्री मनोज बघेल, श्री ब्रिज मोहन,
श्री ओम प्रकाश आदि  और सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा से श्री राजीव सक्सेना सीनियर पत्रकार,
श्री शिरोमणि सिंह पार्षद एवं अद्याक्ष सिविल सोसाइटी और श्री अनिल शर्मा सचिव सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा मौजूद रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *