भूमि पूजन के लिए सुरक्षा के सख्त इंतजाम: सीमाएं सील, छतों पर स्नाइपर्स

National

अयोध्या। उत्तर प्रदेश के अयोध्या में पांच अगस्त को होने वाले राममंदिर के भूमि पूजन के लिए सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं। 4 अगस्त से अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएंगी। सिर्फ उन्हीं लोगों की एंट्री होगी, जिन्हें वहां जाने की विशेष अनुमति होगी। सुरक्षा इंतजामों व अन्य व्यवस्थाओं की समीक्षा के लिए मुख्य सचिव आरके तिवारी, डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी और अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने शुक्रवार को अयोध्या का दौरा किया


अयोध्या के पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को कोविड-19 के दिशानिर्देशों का भी सख्ती से पालन करवाने का आदेश दिया गया है। एडीजी कानून एवं व्यवस्था प्रशांत कुमार को अयोध्या के पुराने एरिया की सुरक्षा का नोडल बनाया गया है जबकि एडीजी लखनऊ जोन एसएन साबत फैजाबाद एरिया की सुरक्षा के प्रभारी होंगे।


छतों पर होंगे स्नाइपर्स


डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि राम नगरी में 3,500 सुरक्षाकर्मी को तैनात किए जा रहे हैं। भूमि पूजन स्थल के आसपास और वीवीआईपी के रूट पर घरों व इमारतों की छतों में स्नाइपर्स तैनात किए जाएंगे। साथ ही एटीएस की कमांडों टीमें भी मौजूद रहेंगी। आर्टीफीशियल इंटेलिजेंस वाले पांच हजार सीसीटीवी कैमरों के जरिए कार्यक्रम स्थल समेत अयोध्या के विशेष इलाकों की निगरानी की जाएगी। ड्रोन कैमरों के जरिए आसमान से भी नजर रखी जाएगी। पीएम के दौरे और रॉ के इनपुट के मद्देनजर सुरक्षा इंतजाम पुख्ता किए जा रहें हैं।


मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी और डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने साकेत डिग्री कॉलेज में हेलिपैड की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण किया। इसके बाद पीएम जिस रूट से रामजन्मभूमि परिसर जाएंगे, उसका भी बारीकी से निरीक्षण किया गया। रामजन्मभूमि परिसर में बन रहे पंडाल और स्टेज को देखा। साथ ही भूमिपूजन की व्यवस्था की भी जानकारी ली। उनके साथ जिले के अधिकारियों की टीम थी। मुख्य सचिव तिवारी और डीजीपी ने रामलला के दर्शन किए। हनुमानगढी में दर्शन कर वहां की सुरक्षा प्लान का जायजा लिया।


अधिकारियों की मीटिंग


इसके बाद मुख्य सचिव ने सर्किट हाउस पहुंचकर अधिकारियों के साथ पीएम के 5 अगस्त के भ्रमण कार्यक्रम की अब तक तैयारी की जानकारी प्राप्त की। कमिश्नर एमपी अग्रवाल और डीएम अनुज कुमार झा ने अब तक की तैयारी व्यवस्था के बारे में बिन्दुवार विवरण प्रस्तुत किया। एसएसपी दीपक कुमार ने सुरक्षा व्यवस्था का खाका प्रस्तुत किया। अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश अवस्थी, अपर पुलिस महानिदेशक एसएन सांवत, पुलिस महानिरीक्षक डॉ. संजीव गुप्ता समेत शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ संक्षिप्त बैठक की।


सचिव ने रामजन्मभूमि, हनुमानगढ़ी, राम की पैड़ी, मीडिया सेंटर आदि का निरीक्षण किया। सरयू नदी के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए गोताखोर और जलपुलिस को भी तैनात करने हेतु निर्देश दिए गए हैं। मुख्य कार्यक्रम स्थल पर मानक के अनुसार अतिथियों के उचित और पर्याप्त कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए बैठने की व्यवस्था, साफ-सफाई की व्यवस्था, भूमि पूजन एवं शिलान्यास स्थल पर बेहतर एवं मानक के अनुसार व्यवस्था करने हेतु निर्देश दिए गए।


-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *