मथुरा/वृंदावन: भक्तों के लिए बांके बिहारी के पट खोले जाने की मांग के साथ अनिश्चितकालीन धरना शुरू

Religion/ Spirituality/ Culture

वृंदावन (मथुरा)। बांके बिहारी मंदिर के पट भक्तों को दर्शन कराने के लिए खोले जाने को लेकर व्यापारिक संगठनों ने धरना शुरू कर दिया है। धर्म रक्षा संघ ने गुरुवार से अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया है।

19 अक्तूबर से श्रीबांकेबिहारी जी के दर्शन बंद कर दिए गए हैं। इसे लेकर वृंदावन में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। मंदिर के निकट व्यापारी धरने पर बैठे वक्ताओं ने कहा कि अब आंदोलन मंदिर खुलने तक जारी रहेगा।

बांकेबिहारी मंदिर के गेट पर मंदिर के कर्मचारी खड़े हो गए हैं वहीं रेलिंग को बंद कर दिया है। मंदिर के बाहर दिल्ली और अन्य राज्यों से श्रद्धालु भगवान को प्रणाम करते हुए निकल जाते हैं। बांकेबिहारी मंदिर की गली में बाजार तो खुला हैं लेकिन कोई ग्राहक नहीं हैं।

मथुरा के सिविल जज जूनियर डिवीजन के न्यायालय में वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर के बंद पट आम भक्तों के लिए खुलवाने संबंधी याचिकाएं स्वीकार कर ली गईं, इन पर सुनवाई चार नवंबर को होगी। हालांकि न्यायालय ने मंदिर प्रबंधक के उस आदेश को निरस्त करने से इंकार कर दिया, जिस पर मंदिर बंद कराया गया। इसके चलते श्रीबांकेबिहारी मंदिर के पट फिलहाल श्रद्धालु के लिए बंद रहेंगे।

श्रीबांकेबिहारी मंदिर खुलने के दौरान 17 अक्तूबर को हुई अव्यवस्था के संदर्भ में प्रबंधक मुनीश कुमार शर्मा ने रिपोर्ट न्यायालय को भेज दी। इसमें उन्होंने अव्यवस्था के लिए मंदिर सेवायत शैलेंद्र गोस्वामी को जिम्मेदार बताया। कहा कि सेवायत गोस्वामियों के प्रवेश की व्यवस्था गेट नंबर एक से है, जबकि वह गेट नंबर चार से अपने 20-25 यजमानों को प्रवेश कराने पर अड़े रहे। इससे भीड़ एकत्रित होने पर अव्यवस्था हो गई।

-एजेंसियां

up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published.