नवरात्रि व्रत: कोरोनाकाल में जोखिम भरा हो सकता है लंबे वक्त तक भूखा रहना

Health

नवरात्रि में लोग व्रत रख रहे हैं, लेकिन कोरोना काल में लंबे वक्त तक भूखे रहना जोखिम भरा हो सकता है, इसलिए एक्सपर्ट्स बता रहे हैं कि व्रत को पारंपरिक रखने की जगह शरीर को डीटॉक्स करने का अवसर बनाएं। साबूदाने की खिचड़ी लेते हैं तो कम से कम 20 ग्राम मूंगफली जरूर खाएं। दिनभर पानी तो पीएं, साथ ही दो चम्मच तिल भी जरूर खाएं।

कुछ इस तरह होना चाहिए उपवास का डाइट प्लान

सुबह चाय के बजाय एक कप दूध लें। इसके अलावा केला या साबूदाने की खिचड़ी भी खा सकते हैं ताकि शरीर को पर्याप्त मात्रा में प्रोटिन और कैल्शियम मिल सके।

आप दिनभर में एक बार खाना खा रहे हैं तो दोपहर में दाल का उपयोग जरूर करें, अगर दाल नहीं ले सकते तो दही या पनीर के अलावा सलाद का उपयोग कर सकते हैं।

शाम को चाय के साथ मूंगफली या फिर 10 से 15 काजू-बादाम खाएं, रात को खाने में सिंघाड़े के आटे की रोटी या फिर हल्की सब्जी खाएं।

डाइट में इसे शामिल करें 

फ्रूट्स व लिक्विड : यदि एक वक्त खाना खा रहे हैं तो कम से कम तीन तरह के फ्रूट जरूर खाएं। इसके अलावा नींबू पानी पीते रहें। गले की समस्या हो तो हल्दी, लौंग, तुलसी, अदरक और शहद या गुड़ से बनाया हुआ काढ़ा पीना चाहिए।

साबूदाना पुलाव : साबूदाना की खीर या अन्य चीज बनाने से बेहतर है कि जो सब्जियां व्रत में खा सकते हैं, उसमें वह डालें और पुलाव बनाएं।

कुट्‌टू की रोटी : कु़ट्टू के आटे में अजवायन, सेंधा नमक डाल कर रोटी बनाएं, इसमें घी न लगाएं।

ड्राय फ्रूट्स : अखरोट, बादाम को दूध के साथ खाएं। ध्यान रखें कि यह तले हुए न हों।

टोंड मिल्क : दूध लेना है तो टोंड मिल्क ही लें। इसमें फैट कम होता है। दूध से कैल्शियम, प्रोटीन मिलेगा और वीकनेस भी नहीं होगी। टोंड मिल्क से दही जमाएं या पनीर तैयार करें।

आलू का रायता : आलू को उबालकर ही खाएं। एक आलू रायते में डालकर खा सकते हैं। इससे प्रोटीन-कैल्शियम मिलेगा। ज्यादा आलू खाने से कैलोरी बढ़ेगी। इसमें नींबू डालकर खाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *