दिल्‍ली के सभी सरकारी और निजी स्‍कूल अगले आदेश तक बंद

Regional

नई दिल्‍ली। देश की राजधानी में बच्‍चों के स्‍कूल अभी नहीं खुलेंगे। पिछले आदेश में 31 अक्‍टूबर तक स्‍कूल बंद किए गए थे। डेप्‍युटी सीएम मनीष सिसोदिया ने बुधवार को कहा कि पेरेंट्स और बच्‍चों में डर है कि कहीं स्‍कूल खुले तो संक्रमण बढ़ जाएगा। उन्‍होंने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा कि टीचर्स और पेरेंट्स से यही फीडबैक मिला है कि स्‍कूल बंद रखे जाएं। सिसोदिया ने कहा कि दिल्‍ली के सभी सरकारी और निजी स्‍कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे। उन्‍होंने कहा कि दुनियाभर में जहां भी महामारी के बीच स्‍कूल खोले गए, वहां बच्‍चों में केस बढ़ गए। ऐसे में दिल्‍ली के स्‍कूल खोलना ठीक नहीं होगा।

उच्‍च शिक्षा में 1,330 सीटें बढ़ीं

सिसोदिया ने बताया कि दिल्‍ली के उच्‍च शिक्षा संस्‍थानों में इस साल से 1,330 सीटें बढ़ गई हैं। उन्‍होंने कहा, ‘इस बार 1,330 सीटें एक्‍स्‍ट्रा होंगी। इसमें सबसे ज्‍यादा 630 सीटें बीटेक के लिए, बीबीए की 120 सीटें, बीकॉम की 220 सीटें, बीए (इकॉनमिक्‍स) में 120, बीसीए में 90 नई सीटें, एमबीए की 60 सीटें नई हैं।’

वायु प्रदूषण, कोरोना के चलते लेना पड़ा फैसला

दिल्ली-एनसीआर पर कोरोना के साथ जहरीली हवा की दोहरी मार है। पिछले कुछ हफ्तों से राजधानी की हवा लगातार जहरीली होती जा रही है। खराब सांस लेते-लेते अब लोगों के स्वास्थ्य पर उसका असर साफ नजर आने लगा है। लोगों में चिडचिड़ाहट, सिरदर्द, आंखों में जलन जैसी शिकायतें तो बढ़ ही रही हैं। अस्थमा रोगी अब काफी परेशान होने लगे हैं और उन्हें अस्पताल जाने की जरूरत महसूस होने लगी है। इसके साथ ही कोरोना के मामलों में भी उछाल आया है।

24 घंटों में कोरोना के रेकॉर्ड 4,853 नए मामले

दिल्ली में बीते 24 घंटों में अब तक के सबसे ज्यादा 4,853 नए मरीज सामने आए हैं। कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है। बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना से 44 व्यक्तियों की मौत हो गई। इससे पहले 16 सितंबर को दिल्ली में 24 घंटे के दौरान कोरोना के 4473 नए मामले सामने आए थे। पिछले 24 घंटों में दिल्ली में 57,210 कोरोना टेस्ट हुए। दिल्ली में कोरोना के कारण होने वाली मृत्युदर 1.74 प्रतिशत है।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *