तेजस्वी का 31वां बर्थडे कल, लेकिन आज तक क्‍लीयर नहीं कि तेजस्‍वी बड़े हैं या तेज प्रताप

Politics

पटना। 9 नवंबर को तेजस्वी यादव का बर्थडे है। सोमवार को तेजस्वी यादव 31 साल के हो जाएंगे। तेजस्वी यादव लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे हैं लेकिन वह तेज प्रताप यादव से बड़े हैं। हर चुनाव के दौरान यह मुद्दा उठता है। सरकारी दस्तावेजों के अनुसार तेजस्वी की उम्र 31 साल है और तेज प्रताप की उम्र 30 है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि छोटे तेजस्वी तेज प्रताप से बड़े कैसे हो गए हैं। इस चुनाव में भी दोनों का चुनावी हलफनामा सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा था।

तमाम एग्जिट पोल अनुमान के अनुसार तेजस्वी यादव बिहार के भावी सीएम हैं। अगर एग्जिट पोल के अनुमान सही हुए तो तेजस्वी सबसे कम उम्र में सीएम बन जाएंगे। तेजस्वी 9 नवंबर को अपना 31वां बर्थडे मनाएंगे। उसके अगले दिन बिहार के चुनाव परिणाम आने वाले हैं। लेकिन उनके चुनावी हलफनामे को देख बिहार के लोग कंफ्यूज कर जाते हैं कि आखिर तेज प्रताप और तेजस्वी में बड़ा कौन है।

उम्र को लेकर बड़ा सवाल

लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटों ने अपनी सियासी पारी की शुरुआत 2015 में की है। तेजस्वी यादव पहली बार राघोपुर से चुनाव लड़े थे। इस बार भी वह राघोपुर से ही मैदान में हैं। जबकि उनके भाई तेज प्रताप यादव ने महुआ सीट को छोड़ दिया है। इस बार वह हसनपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। उम्र में कंफ्यूजन का सवाल इसी चुनाव से दोनों भाइयों का पीछा कर रहा है। लेकिन यह कंफ्यूजन अभी तक दूर नहीं हुआ है। 2020 के विधानसभा चुनाव में भी दोनों के उम्र को लेकर सवाल बरकरार है।

31 साल के हैं तेजस्वी

तेजस्वी यादव ने राघोपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। उनके चुनाव आयोग में जो हलफनामा दाखिल किया है, उसके अनुसार उनकी उम्र 31 साल है। तेजस्वी यादव के उम्र पर कोई विवाद नहीं है। वह नवंबर को 31 साल के हो रहे हैं। लेकिन विवाद उनके बड़े भाई की उम्र को लेकर है। वह इनसे छोटे कैसे हैं।

बड़े भाई तेज प्रताप हैं तेजस्वी से छोटे

वहीं, तेज प्रताप यादव की उम्र तेजस्वी से कम है। चुनावी हलफनामे के अनुसार तेज प्रताप यादव अभी 30 साल के हैं। लेकिन वह तेजस्वी से बड़े हैं। सरकारी दस्तावेजों के अनुसार तेज प्रताप से बड़े तेजस्वी यादव ही हैं। इन्हीं दस्तावेजों के आधार पर लालू यादव के दोनों बेटे सोशल मीडिया पर ट्रोल होते रहे हैं।

सीधे तौर पर लालू परिवार इन विवादों पर जवाब देने से बचता रहा है। 2015 के चुनाव में जब यह मुद्दा उठा था, तब कहा गया था कि मानवीय भूल की वजह से ऐसा हुआ है। लेकिन हर चुनाव में दोनों भाई इसे लेकर ट्रोल होते हैं। अब तेजस्वी का सोमवार को बर्थडे है। चर्चा है कि पटना स्थित आवास पर तेजस्वी सादे समारोह में ही बर्थडे मनाएंगे। नतीजे आने के बाद ही जश्न होगा।

-एजेंसियां

up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published.