जवाबी सैन्‍य कार्यवाही से बौखलाए पाक ने भारत के खिलाफ खड़ा किया नया ड्रामा

INTERNATIONAL

इस्‍लामाबाद। जम्‍मू-कश्‍मीर में सेना के जोरदार जवाबी कार्यवाही से बौखलाए पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और सेना के प्रवक्‍ता ने भारत पर बलूचिस्‍तान में आतंकवाद को फैलाने का बड़ा आरोप लगाया है। कुरैशी ने दावा किया कि पीएम मोदी के निर्देशन में भारतीय खुफिया एजेंसी RAW चीन के ड्रीम प्रोजेक्‍ट चाइना-पाकिस्‍तान इकनॉमिक कॉरिडोर को बर्बाद करने के लिए 80 अरब रुपया दिया है और 700 आतंकी तैयार किए हैं।

जम्‍मू-कश्‍मीर में सक्रिय आतंकवादियों को पालने वाले पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री ने कथित भारतीय आतंकवाद पर शनिवार को डोजियर पेश किया। कुरैशी ने कहा, भारत ने सीपीईसी को बर्बाद करने के लिए 80 अरब रुपये दिए हैं। भारत ने 700 लोगों की मिल‍िश‍िया बनाई है जो बलूचिस्‍तान में सीपीईसी को निशाना बनाते रहेंगे। भारत गिलगित-बाल्टिस्‍तान में चुनाव से पहले वहां पर राष्‍ट्रवाद को हवा देने की कोशिश की। चुनाव के बाद भी भारत का इरादा नेक नहीं है।’

‘रॉ ने सीपीईसी को निशाना बनाने के लिए एक विशेष सेल तैयार किया’

कुरैशी ने दावा किया कि रॉ ने सीपीईसी को निशाना बनाने के लिए एक विशेष सेल तैयार किया है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि भारत अपनी जमीन का इस्‍तेमाल पाकिस्‍तान में आतंकवाद को फैलाने के लिए कर रहा है। यही नहीं, भारत अफगानिस्‍तान की जमीन का इस्‍तेमाल भी पाकिस्‍तान पर हमले के लिए कर रहा है। पाकिस्‍तानी विदेश मंत्री ने चेतावनी दी कि आने वाले समय में पाकिस्‍तान में आतंकी हमले बढ़ सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि भारत संयुक्‍त राष्‍ट्र, वियना कन्‍वेंशन समेत तीन अंतर्राष्‍ट्रीय संधियों का उल्‍लंघन कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि भारत हमें FATF में ब्‍लैकलिस्‍ट करने के लिए दबाव डाल रहा है।

उधर, पाकिस्‍तानी सेना के प्रवक्‍ता ने दावा किया कि देश में हो रहे आतंकवादी घटनाओं के पीछे भारत का हाथ है। भारत बीएलए, बीआरए और तहरीक-ए- तालिबान (TTP) को मदद दे रहा है। अफगानिस्‍तान में भारतीय दूतावास के अधिकारी राजेश ने पाकिस्‍तान के बडे़ शहरों कराची, लाहौर समेत कई बड़े शहरों में हमले की योजना बनाई है। ये आतंकवादी संगठन भारत की मदद कर रहे हैं।

‘आईएसआईएस के पाकिस्‍तानी शाखा का निर्माण कराया’

सेना प्रवक्‍ता ने कहा कि भारत ने आतंकी संगठन आईएसआईएस के पाकिस्‍तानी शाखा का निर्माण कराया है। इसका नाम ‘दायश पाकिस्‍तान’ रखा है। प्रवक्‍ता ने कहा कि अफगानिस्‍तान में भारतीय दूतावास पाकिस्‍तान में आतंकवाद फैलाने का केंद्र बन गया है। अफगानिस्‍तान में भारतीय राजदूत ने TTP को मदद देने के लिए बैठक की थी। रॉ अफगानिस्‍तान की मदद से पाकिस्‍तान में टीटीपी को पैसा भेज रही है।

-एजेंसियां

up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published.