कंगना से फ्लाइट में अभद्रता करने पर इंडिगो ने बैन किए 9 पत्रकार

Entertainment

नई दिल्‍ली। निजी क्षेत्र की एयरलाइन कंपनी इंडिगो ने 9 पत्रकारों को बैन कर दिया है। यह पत्रकार उस फ्लाइट में चढ़कर अभद्रता कर रहे थे जिसमें अभिनेत्री कंगना रनौत मौजूद थीं। कंगना चंडीगढ़ से मुंबई जा रही थीं। इन 9 पत्रकारों को 15 दिन के लिए प्रतिबंधित किया गया है। कंगना उस वक्‍त सुर्खियों में थीं क्योंकि महाराष्‍ट्र की शिवसेना सरकार के साथ उनकी जुबानी जंग चल रही थी। बांद्रा में स्थित कंगना के ऑफिस को बीएमसी द्वारा 9 सितंबर को ध्वस्त कर दिया गया था। हालांकि बॉम्बे हाईकोर्ट से स्टे ऑर्डर मिलने के बाद इस काम को बीच में रोक दिया गया।

DGCA ने कहा था, एक्‍शन लो

डायरेक्‍टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने इंडिगो से 9 सितंबर की घटना के सिलसिले में कार्यवाही करने को कहा था। DGCA का कहना था कि चंडीगढ़-मुंबई फ्लाइट में हंगामा करने वाले लोगों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाए। कंगना उस फ्लाइट (6E-264) में फर्स्‍ट रो में बैठी थीं। जैसे ही फ्लाइट मुंबई एयरपोर्ट पर उतरी, टीवी रिपोर्टर्स और कैमरामैन उनकी एक झलक के लिए विमान में घुस पड़े थे।

डीजीसीए को जारी करनी पड़ी थी नई गाडडलाइन

इस घटना के बाद डीजीसीए ने गाइडलाइंस में थोड़ा बदाव किया था। अब फ्लाइट में बिना पूर्व इजाजत के कोई फोटो नहीं खींच सकता। प्लेन के टेक ऑफ, लैंडिंग और किसी डिफेंस की जगह पर खड़े रहने के दौरान फोटो खींचने की इजाजत नहीं है। यात्रा के दौरान किसी उपकरण के इस्तेमाल की इजाजत नहीं है जो रिकॉर्डिंग करता हो। डीजीसीए ने कहा कि यात्री ऐसा कोई डिवाइस इस्तेमाल नहीं कर सकते, जिससे भीड़-भाड़ हो, लोगों की सुरक्षा को खतरा हो या फ्लाइट खतरे में पड़ जाए।

फ्लाइट में टूटे थे कई नियम

इंडिगो ने डीजीसीए को एक रिपोर्ट सौंपी थी। इस घटना को सुरक्षा नियमों और कोविड ट्रेवल प्रोटोकॉल का उल्‍लंघन माना गया था। रिपोर्टर्स ने मास्‍क उतार रखे थे और सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन नहीं हुआ था। विमान के भीतर फोटॉग्रफी की इजाजत नहीं है। फ्लाइट के क्रू मेंबर्स ने बार-बार सबसे अपनी सीट पर बैठने की अपील की लेकिन वे नहीं माने। घटना में इंडिगो के ग्राउंड स्‍टाफ की चूक भी मानी गई क्‍योंकि उन्‍होंने बड़े-बड़े कैमरों को भीतर जाने दिया।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *