एटा: असम की 15 वर्षीय किशोरी का धर्म परिवर्तन करा जबरन देह व्यापार में धकेला, दो गिरफ्तार

Crime Regional

एटा। असम के गुवाहाटी की 15 वर्षीय किशोरी को पहले बेच दिया फ‍िर किशोरी का धर्म परिवर्तन कराने के बाद उससे जबरन देह व्यापार कराया जा रहा था। प्रयागराज की एक सामाजिक संस्था ने गुरुवार को पुलिस की मदद से पीड़ित किशोरी को मुक्त कराया। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। किशोरी को बेचने वाले दंपति को गिरफ्तार कर लिया गया है।

न्यू रेवाड़ी नर्सरी के पीछे गंदा नाला निवासी रूबीना और उसका पति मोहम्मद समीर मेला मेले में अपनी दुकान लगाते हैं। वे करीब दो साल पूर्व असोम के गुवाहाटी गए थे। वहां उन्हें एक 13 वर्षीय किशोरी मिली, इसे वे नाटक-नौटंकी में काम दिलाने के बहाने बहला-फुसलाकर एटा ले आए। आरोप है कि यहां लाकर उसका धर्म परिवर्तन कराने के बाद नाम बदल दिया गया।

पीड़ित किशोरी के अनुसार उससे पहले न्यू रेवाड़ी नगर में ही देह व्यापार कराया गया। इसके बाद उसे करीब एक साल पूर्व सीमा नामक महिला को दो लाख रुपये में बेच दिया गया। सीमा ने हिंदू नगर निवासी महिला जियो पत्नी शाकिर के मकान में कमरा किराए पर लिया और किशोरी से जबरन देह व्यापार कराने लगी।

पीड़ित ने ग्राहक के माध्यम से संस्था को सूचना दी थी

किशोरी ने किसी ग्राहक के माध्यम से देह व्यापार में फंसे होने की जानकारी पत्र के माध्यम से प्रयागराज की सामाजिक संस्था फ्रीडम फर्म को दी। संस्था की संयोजिका प्रीति गौड़ ने बताया कि उन्होंने स्थानीय कार्यकर्ताओं को ग्राहक बनाकर रेड लाइट एरिया में भेजा। मामले की पुष्टि होने संस्था की टीम गुरुवार को एटा आई। एसएसपी सुनील कुमार सिंह को पूरा मामला बताया।

एसएसपी के आदेश पर मानव तस्करी विरोधी यूनिट के प्रभारी निरीक्षक वीरेंद्र कुमार भारती ने कोतवाली पुलिस के साथ गुरुवार दोपहर तकरीबन तीन बजे शाकिर के मकान में छापा मारा। यहां से किशोरी को बरामद कर लिया गया, लेकिन मौके पर जुटी भीड़ का फायदा उठाकर आरोपी महिला भाग गई। उधर, पुलिस की कार्रवाई की भनक लगते ही सीमा भी गायब हो गई।

पुलिस ने प्रभारी निरीक्षक वीरेंद्र कुमार भारती की तहरीर पर जियो पत्नी शाकिर, रूबीना और उसके पति मोहम्मद समीर और सीमा के खिलाफ किशोरी को अगवा करने और देह व्यापार कराने संबंधी धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने रूबीना और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया। प्रभारी निरीक्षक वीरेंद्र कुमार भारती ने बताया कि संस्था की पहल पर किशोरी को मुक्त कराया गया है। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *