उद्धव ठाकरे ने कहा, दिवाली बाद महाराष्‍ट्र में स्‍कूल और मंदिर खोलने पर किया जा रहा है विचार

Politics

मुंबई। महाराष्‍ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने रविवार को ऐलान किया है कि दिवाली बाद राज्‍य में स्‍कूल फिर से खोले जाने पर विचार किया जा रहा है। उद्धव ने यह भी जोड़ा कि धार्मिक स्‍थलों को भी दिवाली बाद खोला जाएगा। इससे पहले उद्धव ने आशंका जताई थी कि राज्‍य में फिर से कोरोना मामलों की संख्‍या बढ़ सकती है।

रविवार को उद्धव ने कहा, ‘हम सभी एहतियाती कदम उठाते हुए दिवाली बाद स्‍कूल फिर से खोलेन पर विचार कर रहे हैं। धार्मिक स्‍थलों को भी खोलने की मंजूरी दी जाएगी।’ प्रदूषण और कोरोना के संबंध पर बोलते हुए उद्धव ने कहा, ‘प्रदूषण से कोरोना का असर बढ़ सकता हे। मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे पटाखे और अतिशबाजी चलाने की जगह मिट्टी के दीये जलाएं। दिवाली के बाद 15 दिन अहम होंगे, हमें सावधान रहना होगा ताकि फिर से लॉकडाउन लगाने की नौबत न आए।’

‘ऐसे एक बीमार कर सकता है 400 को कोरोना’

कोरोना को लेकर पूरी सावधानी बरतने पर जोर देते हुए उद्धव ने कहा, ‘भीड़ में बिना मास्क के घूमने वाला कोविड-19 का मरीज करीब 400 लोगों को संक्रमित कर सकता है।’ इससे पहले शनिवार को वेबिनार बैठक में मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा था कि वैश्विक स्थिति को देखते हुए कोरोना की एक और लहर की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है। दिवाली के बाद अगले कुछ दिन तक और सतर्क रहने की आवश्यकता है। जिन स्कूलों में आइसोलेशन केंद्र स्थापित किए गए थे, उन्हें बंद नहीं किया जा सकता है। स्थानीय प्रशासन को यह तय करना चाहिए कि क्या ऐसी जगहों के स्कूलों को वैकल्पिक स्थानों पर शुरू किया जा सकता है। स्कूलों की स्वच्छता, शिक्षकों के कोरोना निरीक्षण जैसे सभी बातों का ध्यान रखना आवश्यक है।

अभिभावकों को नसीहत

मुख्यमंत्री ठाकरे ने छात्रों के माता-पिता से अपील की है कि अगर उनके बच्चे की तबीयत खराब है या फिर परिवार में किसी सदस्य की तबीयत खराब है, तो वे अपने बच्चों को स्कूल में नहीं भेजें। इस अवसर पर स्कूली शिक्षा मंत्री गायकवाड ने कहा कि स्कूल शुरू होने से पहले सभी शिक्षकों की आरटीपीसीआर की जांच 17 से 22 नवंबर के दरम्यान स्थानीय प्रशासन के माध्यम से की जाएगी। इसके अलावा, विद्यार्थियों की थर्मल चेकिंग की जाएगी। एक बेंच पर एक छात्र को बैठाया जाएगा। राज्य मंत्री बच्चु कडू ने कहा कि स्कूल चरणबद्ध तरीके से शुरू किए जाएंगे।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *