इटावा: प्राइवेट डबल डेकर बसें रोडवेज विभाग के राजस्व को लगा रही पलीता

Local News

ए आर टी ओ क्यों नही करता कानूनी कार्यवाही किसकी सह पर चल रहा है अवैध कारोबार

इटावा।क्षेत्र के कस्बा महेवा बकेवर से गुजरते हुए इटावा जिला से राजधानी दिल्ली के लिए डबल डेकर बसों का संचालन जोरदार चल रहा है । जो पुलिस व प्रशासन व परिवहन विभाग पर प्रश्न चिन्ह है। ऐसे में राजस्व को ढेर सारा चूना लगने का अनुमान है। कुछ बीते माह डबल डेकर बसों के संचालन को लेकर जिला प्रशासन काफी सतर्क हो गया था और ताबड़तोड़ कार्रवाई की गई थी ।

उस वक्त कुछ बस मालिकों द्वारा अकल बंदी दिखाते हुए बसों का संचालन कुछ बंद करा दिया था ।लेकिन फिर भी जाने क्या बात हुई या फिर संबंधित अधिकारियों से पुनः सांठगांठ हो गई है कि बसों के संचालन में भी पहले से भी अधिक तेजी आ गई है। बताया जा रहा है कि जिले के बॉर्डर ब्लाक महेवा वकस्बा नगर पंचायत बकेवर से इटावा से डबल डेकर बस का संचालन धड़ल्ले से राजधानी दिल्ली के लिए रोजाना जा रही है। जो बिना रोक-टोक के इस तरह बसों के आवागमन से पुलिस व प्रशासन सहित परिवहन विभाग पर प्रश्नचिन्ह स्वाभाविक हैं ऐसे में इन बसों का संचालन हर रोज बढ़ता जा रहा है। डबल डेकर बसों से जुड़े सूत्रों से पता चला है कि बसों की कमाई का कुछ हिस्सा रास्ते के हर थाना पुलिस को दिया जाता है ।ताकि बीच में कोई बड़ी वाधा उत्पन्न ना हो सके।

यह भी बताया गया है की बसों के संचालन का समय भी पुलिस की सलाह मशवरे से ही तय किया जाता है। पैसे में पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगना देही है। वैसे भी भला कौन अंधा है । जिसे दिखाई नहीं देता है कि जहां विशेष वाहन चेकिंग अभियान पुलिस किसी को नहीं वकस्ती वहीं इन डबल डेकर बसों को नजरअंदाज कर पास करवा देती है ।ऐसे में कुछ तो जरूर है जो पुलिस के हाथ वादे हैं।

हालांकि सीओ भरथना चंद्रपाल सिंह ने बताया कि पुलिस व परिवहन विभाग की संयुक्त टीम द्वारा अवैध बसों पर कार्रवाई की जाएगी ।वही प्रभारी एआरटीओ बृजेश कुमार का कहना है कि अवैध तरीके से चलने वाले वाहनों के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है। उन्होंने कहा डबल डेकर बसे भी कार्रवाई की रडार पर है । उन्होंने कहा कि जल्द ही छापे मार कर कार्रवाई की जाएगी। अब देखना यह है कि कार्रवाई की जाएगी दिल्ली तक अवैध रूप से चलने वाली इन तमाम बसों से उत्तर प्रदेश से भारत भर में व्यापत भ्रष्टाचार अत्तता यह सिद्ध करता रहेगा कि गलत काम रुक नहीं सकता रास्तों में पुलिस भले आदमी और वैध वाहन चालकों सहित मालिकों को परेशान करने के लिए चाक-चौबंद रहती है।

बाकी गोवंशो से भरी हुई गाड़ियां भी अविवाद स्वरूप शायद कहीं पकड़ी जाती हैं। यह अलग बात कि जब गोवंशो से भरी कोई गाड़ी कहीं पलट जाती है। व कहीं लड़ जाती अथवा खराब हो जाती है तो पब्लिक की नजर में आने पर पुलिस का गुड वर्क बन जाती है ।वही मोहरम से भरे ट्रक पकड़े जाते हैं जिसने मोटी रकम दे दी तो निकाल दिए जाते हैं ना देने पर सीज भी कर दिए जाते हैं। सड़कों पर गैरकानूनी गतिविधियां कानून व्यवस्था पर गहरा प्रश्नचिह्न है ।

जिसे देखने को मिलता है टेंपो टैक्सी स्टैंडओं पर होने वाली अवैध वसूली काबिले गौर है आखिर क्यों और किसकी सह पर टेंपू टैक्सी मुख्य मार्गों का आधे से अधिक भाग घेरे रहती हैं ।जिससे जाम भी लगने देखा जाता है ।वहीं क्षेत्र की जनता ने जिला अधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से जोरदार मांग की है कि इस भ्रष्टाचार व डबल डेकर बसों की डग्गा मारी को खत्म किया जाए।

रिपोर्ट : राजेश प्रजापति इटावा

up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published.