आगरा: ‘नौकरशाही को जनता की इच्छा के अनुसार चलना होगा’ – दिनेश शर्मा

Politics

आगरा। बुधवार को आगरा आए सूबे के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने आगरा के सर्किट हाउस में जिला प्रशासन, जिला पुलिस और जनप्रतिनिधियों के साथ में बैठक की। इस बैठक में तीन मुख्य बिंदु रहे। पहला, नवम्बर माह में महाविद्यालय खुलने हैं, उनके बारे में क्या रणनीति होनी चाहिए। इस पर उपमुख्यमंत्री का कहना था कि हमें खुशी है इस बात की कि कक्षा 9, 10 और 11-12वीं के जो स्कूल खुले हैं, उनमें उपस्थिति भले ही कम रही हो मगर छात्र छात्राओं और स्कूल प्रशासन में सैनिटाइजर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग में जागरूकता रही है।

कोविड-19 के संबंध में दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। इस संबंध में परीक्षा होने से पूर्व जिला विद्यालय निरीक्षक और जिला प्रशासन की टीम पूरी रणनीति अख्तियार करेगी। ऑफलाइन टीचिंग के साथ-साथ ऑनलाइन टीचिंग को भी जारी रखा जाए। जो लोग ऑनलाइन टीचिंग पढ़ना चाहते हैं, उन्हें खुली छूट दी जाए।

दूसरा, अक्टूबर और नवंबर का महीना त्योहारों का महीना है। इसलिए ऐसे में यहां सावधानी की बेहद जरूरत है। इस संबंध में रामलीला कमेटी और पूजा कमेटी के पदाधिकारियों के साथ में जिला प्रशासन लगातार समन्वय बनाए रखें। कुछ जगह ऑनलाइन रामलीला खेलने का निर्णय हुआ है, यह अच्छी चीज है। त्योहार के सीजन के दौरान भीड़ भाड़ ना हो, सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण तरह पालन हो और पूर्ण तरीके से सैनिटाइज भी किया जाए। इस संबंध में जिला प्रशासन के साथ में समीक्षा की गई है।

तीसरा, कोरोना के घटते आंकड़े को भी उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने मीडिया के सामने रखा। अब तक आगरा में कोरोना से 138 लोगों की मौत हो चुकी है जो चिंता का विषय है। मगर अब मृत्यु दर घटा है। कोरोना की लगातार चेकिंग हो, कोई कोताही न हो, इस बात की भी हिदायत दी गई है।

उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि अगर नौकरशाही की कहीं कोई शिकायत आती है तो उस पर लगातार कार्यवाही की जा रही है और नौकरशाही को पब्लिक की इच्छा अनुसार चलना होगा, ऐसे दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

up18news

Leave a Reply

Your email address will not be published.