टीम इंडिया की जर्सी से ओप्पो की छुट्टी, भारतीय कंपनी बायजू आई

Updated 15 Sep 2019

नई दिल्‍ली। टीम इंडिया आज जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ धर्मशाला के मैदान पर उतरेगी, तो उसकी जर्सी पर ओप्पो की जगह नया नाम दिखेगा। टीम इंडिया की जर्सी से चाइनीज कंपनी ओप्पो की छुट्टी हो गई है। अब भारतीय कंपनी का नाम मैन इन ब्लू की जर्सी पर चमकता हुआ दिखेगा। ओप्पो ने टाइटल स्पॉन्सर का अधिकार भारतीय एजुकेशन सैक्टर से जुड़ी कंपनी बायजू को बेच दिया है। धर्मशाला में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली, उपकप्तान रोहित शर्मा और कोच रवि शास्त्री ने नई जर्सी को लांच किया।
बता दें कि ओप्‍पो ने टीम इंडिया के स्‍पॉन्‍सर के रूप में 5 साल का करार किया था लेकिन उसने बीच में ही हटने का फैसला किया और अपना सौदा बायजू को ट्रांसफर कर दिया।
रिकॉर्ड बोली लगाकर ओप्‍पो ने खरीदे थे राइट्स
2017 में ओप्पो ने टीम इंडिया की जर्सी पर टाइटल स्पॉन्सर के राइट्स 1079 करोड़ में खरीदे थे। इस डील में बीसीसीआई को उतनी ही रकम मिलेगी, जितनी OPPO कंपनी दे रही थी। इसमें उसे कोई घाटा नहीं होने वाला है। ये डील 31 मार्च 2022 तक चलेगी।
ओप्‍पो प्रत्‍येक द्विपक्षीय सीरीज़ के हर मैच के लिए बीसीसीआई को 4.6 करोड़ देती थी। आईसीसी और एशिया कप के मुकाबलों के लिए कंपनी को हर मैच में 1.92 करोड़ रुपये बीसीसीआई को देने होते थे. अब ये पैसे बायजू को देने होंगे।
ऑनलाइन एजुकेशन की कंपनी है बायजू
Byju’s एजुकेशन सैक्टर से जुड़ी है, जो ऑनलाइन पढ़ाई कराने और कोचिंग के अलावा ट्यशून कराने के लिए फेमस है। पिछले कुछ दिनों में उसने तेजी से लोकप्रियता हासिल की है। BYJU’S को रविंद्रन ने खड़ा किया था। इसी साल इस कंपनी ने अमेरिका की कंपनी OSMO को खरीदा था।
बायजू को ऑनलाइन कोचिंग कंपनी के जरिए सालाना कमाई 260 करोड़ रुपए हो चुकी है। शाहरुख खान कंपनी के ब्रैंड एम्बेसडर हैं. साथ ही डिजनी ने भी इसमें पैसा लगाया है। अगले 3 साल में कंपनी ने अपने रेवेन्यू का लक्ष्‍य 260 करोड़ से बढ़ाकर 3250 करोड़ रखा है।
-एजेंसियां



Free website hit counter