मीराबाई चानू ने कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में जीता गोल्ड

Updated 10 Jul 2019

आपिया। पूर्व विश्व चैंपियन मीराबाई चानू ने मंगलवार को कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप के पहले दिन गोल्ड मेडल जीत लिया। इसी के साथ भारतीय दल के नाम 8 गोल्ड, तीन सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज मेडल समेत कुल 13 पदक हो गए।
 
पूर्व वर्ल्ड चैम्पियन मीराबाई चानू ने राष्ट्रमंडल वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप के पहले दिन मंगलवार को स्वर्ण पदक जीता। भारत ने मंगलवार को कुल आठ स्वर्ण, तीन रजत और दो कांस्य समेत 13 पदक अपने नाम किए।
 
चानू ने ओलिम्पिक क्वालीफाई इवेंट के महिला 49 किग्रा वर्ग में कुल 191 किग्रा (84+107) वेट लिफ्ट कर स्वर्ण जीता। यहां से मिले अंक 2020 टोक्यो ओलिम्पिक की अंतिम रैंकिंग में काफी अहम साबित होंगे।
 
मीराबाई ने अप्रैल में चीन के निंगबाओ में एशियाई चैम्पियनशिप में 199 किग्रा वजन उठाया था, लेकिन मामूली अंतर से वे पदक से चूक गईं थीं। ओलिम्पिक 2020 में क्वालीफाई करना 18 महीने के अंदर होने वाले छह टूर्नामेंटों में प्रदर्शन पर निर्भर है। इनमें से चार सर्वश्रेष्ठ नतीजों के आधार पर क्वालीफाई का फैसला होगा।
 
मीराबाई ने महिलाओं के 49 किलो वर्ग में 191 किलो (84 प्लस 107) का भार उठाया। यहां से मिले अंक 2020 टोक्यो ओलिंपिक की अंतिम रैंकिंग में काफी उपयोगी साबित होंगे। इससे पहले अप्रैल में चीन के निंगबाओ में हुए एशियाई चैंपियनशिप में मीराबाई ने 199 किलो वजन उठाया था लेकिन मामूली अंतर से पदक से चूक गई थी।
 
मीराबाई के अलावा झिल्ली डालाबेहरा ने 45 किलो वर्ग में 154 किलो वजन उठाकर स्वर्ण जीता। सीनियर 55 किलो वर्ग में सोरोइखाइबाम बिंदिया रानी और मत्सा संतोषी को स्वर्ण और रजत पदक मिले । पुरूष वर्ग में 55 किलो वर्ग में रिषिकांता सिंह ने स्वर्ण पदक जीता।
 
ओलिंपिक 2020 की क्वॉलिफिकेशन प्रक्रिया 18 महीने के भीतर छह टूर्नामेंटों में वेटलिफ्टर के प्रदर्शन पर निर्भर है। इसमें से चार सर्वश्रेष्ठ नतीजों के आधार पर निर्धारण होगा।
-एजेंसी



Free website hit counter