BCCI अध्यक्ष बनने से पहले गांगुली ने कहा, विराट भारत की शान

Updated 15 Oct 2019

नई दिल्‍ली। BCCI अध्यक्ष बनने से पहले पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली ने विराट कोहली की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह भारत की शान हैं।
उन्होंने यह भी कहा कि वह बिना किसी दबाव के काम करेंगे और क्रिकेट की सोच का इस्तेमाल करेंगे।
बता दें कि सौरभ गांगुली ने सोमवा को BCCI अध्यक्ष पद के लिए नामांकन किया है और उनके विरोध में कोई नहीं है। इसलिए उनका अध्यक्ष बनना तय है।
एक न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में सौरभ गांगुली ने कहा, ‘यह पद मेरे लिए गौरव की बात है और मैं सहयोग करने वाले सभी लोगों को धन्यवाद देता हुं। ऐसा पद काबिलियत से ही हासिल किया जा सकता है।’ सौरभ ने कहा कि वह सभी को साथ लेकर चलने की कोशिश करेंगे।
गांगुली ने कहा कि अगले साल टी-20 विश्व कप है और वह विराट कोहली को खुलकर खेलने के लिए कहेंगे। उन्होंने कहा कि मैच बोर्ड रूम में नहीं बल्कि मैदान में जीता जाता है। गौरतलब है कि BCCI के सेक्रटरी पद के लिए गृह मंत्री के बेटे जय शाह और कोषाध्यक्ष के पद के लिए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण धूमल ने पर्चा भरा है।
अध्यक्ष बनने से गांगुली को कम से कम 7 करोड़ का नुकसान हो सकता है। BCCI अध्यक्ष के तौर पर गांगुली का कार्यकाल 10 महीने का होगा क्योंकि उन्हें सितंबर 2020 के बाद कूलिंग ऑफ पीरियड पर जाना होगा। इसके बाद वह राजनीति का रास्ता भी पकड़ सकते हैं।
47 वर्षीय गांगुली फिलहाल कॉमेंट्री भी करते हैं और कमर्शियल विज्ञापनों से भी जुड़े हैं। इसी के चलते उन्हें BCCI अध्यक्ष बनने से काफी बड़ी रकम का नुकसान होगा क्योंकि पद पर रहते हुए कहीं और से इनकम करने से हितों के टकराव का मामला आएगा। गांगुली की कप्तानी में टीम इंडिया 2003 वर्ल्ड कप में उपविजेता रही थी। उन्हें बेहद आक्रामक कप्तान माना जाता था और वह अपने फैसलों पर अडिग रहते थे।
-एजेंसियां



Free website hit counter