लॉकडाउन के कारण एनपीआर और जनगणना का कार्य स्‍थगित

Updated 25 Mar 2020

नई दिल्‍ली। देश में लॉकडाउन के कारण राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को अपडेट और 2021 की जनगणना के पहले चरण को स्थगित कर दिया गया है।
ज्ञात रहे कि देश में कोरोना के बढ़ते मामले और इस वायरस के खतरनाक संक्रमण को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार आधी रात से पूरे देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा कर दी। देशभर में कोरोना के 562 मामले अब तक सामने आए हैं। इसमें 9 लोगों की मौत हुई है।
एनपीआर और जनगणना का काम रोका गया
कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉकडाउन के कारण राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को अपडेट और 2021 की जनगणना के पहले चरण को स्थगित कर दिया गया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। दोनों प्रक्रियाएं एक अप्रैल से 30 सितंबर के बीच पूरी की जानी थी। गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि जनगणना को दो चरणों में पूरा किया जाना था। इनमें पहले चरण के तहत अप्रैल से सितंबर के दौरान मकान सूचीकरण और मकानों की गणना और नौ से 28 फरवरी के दौरान आबादी की गणना शामिल है।
गुजरात में 3 और लोगों में कोरोना संक्रमण
गुजरात में कोविड-19 संक्रमण के तीन और मामले सामने आने के बाद राज्य में इस घातक वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर बुधवार को 38 हो गई। प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) जयंती रवि ने संवाददाताओं को बताया कि एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम के तहत राज्य सरकार ने अब तक राज्य के उन शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में 1,60,62,000 लोगों को कवर किया है जहां कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं। अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा में बुधवार सुबह एक-एक मामला सामने आया। उन्होंने बताया कि इनमें से एक मरीज दुबई से लौटा था जबकि दो अन्य लोग देश में ही किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से प्रभावित हुए। जंयती ने बताया कि इसके साथ ही अहमदाबाद में कुल 14, सूरत एवं वडोदरा में सात-सात, गांधीनगर में छह, राजकोट में तीन और कच्छ में एक व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हैं।
राजस्थान में बढ़ा कोरोना का आंकड़ा
इस बीच, राजस्थान में कोरोना को चार और मामले सामने आए हैं। चार लोगों में से दो भीलवाड़ा के एक मेडिकल स्टाफ के परिजन हैं। राज्य में कोरोना के मामले बढ़कर 36 हुए।
तमिलनाडु में कोरोना के 5 नए मामले
तमिलनाडु में कोरोना के 5 नाए मामले सामने आए हैं। राज्य के हेल्थ मिनिस्टर डॉ. सी विजयभास्कर ने बताया कि सेलम मेडिकल कॉलेज में चार इंडोनेशियाई नागरिक और चेन्नै का रहने वाला उनका एक ट्रैवल गाइड है। 22 मार्च से ही इन सभी लोगों को क्वारंटाइन में भेज दिया गया है।
महाराष्ट्र के कोरोना के पहले दो मरीज हुए ठीक
महाराष्ट्र के पुणे में दो सप्ताह पहले कोरोना पीड़ित पाए गए दो लोग इस बीमारी से ठीक हो गए हैं। राज्य में कोरोना के ये पहले दो मामले थे। दोनों मरीजों के टेस्ट निगेटिव आए हैं और आज उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी जाएगी।
गृह मंत्रालय का राज्यों को निर्देश
गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को एक 24×7 कंट्रोल रूम/ऑफिस बनाने के निर्देश दिए हैं ताकि जरूरी सामान की आपूर्ति करने वाले लोग किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न होने पर फोन कर सकें।
-एजेंसियां



Free website hit counter