एयर इंडिया की जेद्दाह फ्लाइट्स में अब ले जा सकेंगे जमजम पानी

Updated 09 Jul 2019

मुंबई। जेद्दाह-हैदराबाद-मुंबई और जेद्दाह-कोचिन के बीच एयर इंडिया की उड़ानों में जमजम के पानी को नहीं ले जाने के फैसले पर विवाद के बाद एयरलाइन ने अब अपना फैसला बदल लिया है।
एयर इंडिया ने ट्रैवल एजेंट्स और हज पर जाने वाले यात्रियों को नोटिस जारी कर बताया है कि अब हजयात्री जमजम ले जा सकते हैं।
एयरलाइन ने पहले दिए गए निर्देश के कारण लोगों को हुई असुविधा के लिए माफी भी मांगी। इसी साल 4 जुलाई को एयर इंडिया के जेद्दाह ऑफिस से जारी किए गए इस नोटिस ने यात्रियों और टूर ऑपरेटर्स की परेशानी बढ़ा दी थी।
इस नोटिस में कहा गया था कि एयरक्राफ्ट में बदलाव और सीमित सीटों के कारण झम झम कैन्स को फलाइट्स पर ले जाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। इसके बाद कई यात्री कांग्रेस विधायक अमीन पटेल के पास गए। पटेल ने नागरिक उड्डयन और अल्पसंख्यक मंत्रालयों को खत लिखकर एयर इंडिया को यह निर्देश देने के लिए कहा है कि 15 सितंबर तक वापस आने वाले यात्रियों के जमजम को लाने के लिए व्यवस्था की जाए।
पवित्र होता है जमजम पानी 
पटेल ने बताया, ‘जमजम पानी पवित्र होता है और इसका धार्मिक महत्व होता है। इसे इतना पवित्र माना गया है कि इससे बीमारियां ठीक हो सकती हैं। हाजियों को इसे ले जाने की इजाजत होनी चाहिए।’ कई प्राइवेट टूर ऑपरेटरों ने नोटिस न मिलने की बात कही। हज कमेटी ऑफ इंडिया के सीईओ एमए खान ने बताया कि एयर इंडिया को हर हाजी को 5 लीटर जमजम ले जाने की इजाजत देनी ही होगी क्योंकि यह एयर इंजिया और हज कमेटी के बीच दस्तखत किए गए सहमति ज्ञापन का हिस्सा है।
वापस लिया गया फैसला
हालांकि, बाद में एयर इंडिया ने ट्वीट कर सफाई दी कि यात्री दोनों विमानों में जमजम के कैन ले जा सकते हैं। सामान को ले जाने की तय सीमा के अंदर कैन भी ले जाने की इजाजत होगी। एयरलाइन ने पहले दिए गए निर्देश के कारण लोगों को हुई असुविधा के लिए माफी भी मांगी।
-एजेंसियां



Free website hit counter