सैयद अली शाह गिलानी के अकाउंट सहित 8 ट्विटर अकाउंट सस्पेंड

Updated 13 Aug 2019

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार ने जम्‍मू-कश्‍मीर में अफवाह और झूठी सूचनाएं फैलाने के कारण ट्विटर से 8 अकाउंट बंद करने को कहा था। केंद्र के आदेश पर इन 8 ट्विटर अकाउंट्स को सस्पेंड भी कर दिया गया है।
इन अकाउंट्स को हटाने का आदेश
@kashmir787 
@Red4Kashmir 
@arsched 
@mscully94 
@sageelaniii (अकाउंट सस्पेंड) 
@sadaf2k19 (अकाउंट सस्पेंड) 
@RiazKha61370907 (अकाउंट सस्पेंड) 
@RiazKha723 (अकाउंट सस्पेंड)
दरअसल, जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद भारत सरकार सोशल मीडिया के जरिए लगातार प्रॉपेगैंडा चलाने वाले ट्विटर अकाउंट पर नजर रखे हुए थी। जब पानी सिर के ऊपर चला गया तब सरकार ने ट्विटर से इन सभी अकाउंट को बंद करने के लिए कहा। जिसके बाद ये अकाउंट तुरंत सस्पेंड कर दिए गए।
अधिकारियों ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के मामले में भारत के खिलाफ गलत और आधारहीन तथ्यों को कथित तौर पर फैलाने के चलते इन ट्विटर अकाउंट को सस्पेंड किया गया है। आपको बता दें कि सोमवार को दिन में ही ट्विटर के जरिए कुछ अकाउंट्स से यह खबर फैलाई गई थी कि बकरीद के मौके पर घाटी गोलीबारी हुई है। हालांकि शाम में स्थानीय प्रशासन ने साफ किया कि यह त्योहार पूरी तरह से शांतिपूर्ण तरीके से मनाया गया और एक भी गोली नहीं चली।
ट्विटर के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘हम निजी और सुरक्षा कारणों के चलते व्यक्तिगत अकाउंट पर कमेंट नहीं करते। हमारी ट्विटर ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट में हर साल दो बार इस सोशल नेटवर्किंग साइट पर की गई रिक्वेस्ट पब्लिश की जाती है।’
आखिर ये 8 अकाउंट किस-किसके हैं 
@kashmir787
यह अकाउंट अभी भी ट्विटर पर दिख रहा है। हालांकि यह वेरीफाइड अकाउंट नहीं है। वॉइस ऑफ कश्मीर नाम से इस चलाए जा रहे इस अकाउंट पर कश्मीर की आजादी की बात कही गई है। इस अकाउंट पर ज्यातर ट्वीट उर्दू में हैं।
@Red4Kashmir
मदीहा शकील खान नामक शख्स इस ट्विटर हैंडल को चलाता है। यह हैंडल भी अभी ट्विटर पर मौजूद है लेकिन यह भी वेरिफाइड नहीं है। इस हैंडल पर जम्मू-कश्मीर को लेकर झूठी खबरें और फोटो हैं।
@arsched
यह हैंडल एक पाकिस्तानी पत्रकार का है। अरशद शरीफ नामक यह शख्स पाकिस्तान के ARY न्यूज़ में काम करता है। यह शख्स भी अपने हैंडल से जम्मू-कश्मीर के बारे में झूठी खबरें और अफवाहें फैला रहा है। ट्विटर पर अभी इसका अकाउंट मौजूद है।
@mscully94
यह हैंडल अभी ट्विटर पर मौजूद है। इस हैंडल को किसी मारी स्कली नामक व्यक्ति चलाता है। इस हैंडल से भी भारत और कश्मीर विरोधी बातें हैं।
@sageelaniii
यह हैंडल जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेता सईद अली शाह गिलानी है। इसे ट्विटर ने सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि पाकिस्तान समर्थक अलगाववादी नेता और हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के कट्टरपंथी गुट के चेयरमैन गिलानी अभी नजरबंद है। आतंकवादी फंडिंग समेत कई मामलों में जांच के दायरे में चल रहे गिलानी ने भी भारत विरोधी कई सारे ट्वीट किए थे। केंद्र सरकार ने इसे भी सस्पेंड करने को कहा था।
@sadaf2k19
इस अकाउंट को ट्विटर से सस्पेंड कर दिया है। इसे कौन चलाता है इस बारे में तो जानकारी नहीं मिल पाई है लेकिन इस अकाउंट पर भी भारत विरोधी ट्वीट थे।
@RiazKha61370907
इस अकाउंट को भी ट्विटर ने सस्पेंड कर दिया है। इस अकाउंट से भी आर्टिकल 370 समाप्त किए जाने के बाद झूठी खबरें और अफवाहें फैलाई जा रही थीं।
@RiazKha723
इस अकाउंट को भी ट्विटर ने सस्पेंड कर दिया है। ट्विटर पर सर्च करने पर नो रिजल्ट आ रहा है। इस अकाउंट से भी भारत विरोधी चीजें फैलाई जा रही थीं।
ISI और पाकिस्तानी सेना का हाथ
गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा कि इन अकाउंट से अफवाहें और गलत सूचनाएं फैलाई जा रही थीं ताकि घाटी में शांति में खलल डाला जा सके। ऐसा माना जा रहा है कि इन सबके पीछे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई या फिर पाकिस्तानी सेना का हाथ है।
-एजेंसियां



Free website hit counter