आजम खान के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करने की तैयारी में यूपी पुलिस

Updated 13 Aug 2019

रामपुर। समाजवादी पार्टी (एसपी) के कद्दावर नेता और रामपुर से सांसद आजम खान के खिलाफ यूपी पुलिस एक बड़ी कार्यवाही करने की तैयारी कर रही है।
72 मुकदमों में आरोपी बनाए गए आजम खान को अब यूपी पुलिस हिस्ट्रीशीटर घोषित करने की दिशा में काम कर रही है। रामपुर के जिला प्रशासन ने इस संबंध में अपनी तैयारी शुरू कर ली है और जल्द ही आजम खान के खिलाफ एक हिस्ट्री शीट बनाने की बात कही गई है।
सोमवार को इसकी पुष्टि करते हुए रामपुर के जिलाधिकारी ऑन्जनेय कुमार सिंह ने कहा कि चूंकि आजम खान के खिलाफ आईपीसी और सीआरपीसी की विभिन्न धाराओं में 72 केस दर्ज हुए हैं, ऐसे में प्रशासन ने अब ऐसा कदम उठाया है। डीएम ने कहा कि आजम खान के खिलाफ तमाम आपराधिक मामले दर्ज हैं और इसमें जमीन कब्जाने और चोरी जैसे केस भी शामिल हैं, ऐसे में हमनें उनके खिलाफ एक हिस्ट्री शीट बनाने का फैसला किया है।
15 केसों में दायर की गई चार्जशीट 
डीएम ने यह भी कहा कि आजम खान के खिलाफ 72 में से 15 केसों में पुलिस ने अपनी चार्जशीट फाइल कर दी है और शेष मामलों में जांच जारी है।
बता दें कि आजम खान के खिलाफ एक महीने में जमीन कब्जाने के कई मुकदमे दायर किए जा चुके हैं और प्रशासन उन्हें भूमाफिया भी घोषित कर चुका है। प्रशासनिक कार्यवाही को राजनीति से प्रेरित बताते हुए आजम खान ने हाल ही में सरकार पर कई आरोप लगाए थे।
‘तुम सब और हालात पर मेरी नजर’ 
इसके अलावा सोमवार को बकरीद के मौके पर उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र रामपुर के मतदाताओं को पत्र लिखते हुए कहा, ‘तुम सब पर और हालात पर मेरी नजर है। मजहब, धर्म और जात इस इदारे (यूनिवर्सिटी) की पहचान नहीं है, इसका मकसद सबको प्यार और सबसे प्यार करना है। इस गांठ को मजबूती से गिरह बंद कर लेना, जिंदगी के बाकी सफर में भी यह काम आएगी। नफरतों के सौदागर इसी के रास्ते मुल्क की तबाही का इंतजाम कर रहे हैं, सबको इससे होशियार रहना होगा।’
‘हार नहीं मानेंगे, चुनौतियों से जूझते रहेंगे’ 
एसपी नेता ने कहा कि हम जल्द सब एक साथ होंगे। जब तक जिएंगे जिंदगी की चुनौतियों से जूझते रहेंगे मगर हार नहीं मानेंगे क्योंकि अपनी मंजिल के बारे में हमें मालूम है और उसे हासिल करना है। फिर सुबह होगी, तूफान गुजर चुका होगा, लहरें दम तोड़ चुकी होंगी और जहाज सूरज की किरणों के साथ अपनी मंजिल की तरफ गामजन हो जाएगा।
-एजेंसियां



Free website hit counter